अमेरिका ने पाकिस्तान को चेताया, जरूरत पड़ी तो घुसकर मारेंगे आतंकियों को

Location: नई दिल्ली                                                 👤Posted By: Digital Desk                                                                         Views: 16528

नई दिल्ली: 23 अक्टूबर 2016, अमेरिका ने आतंकवाद को लेकर एक बार फिर पाकिस्तान को चेताया है. अमेरिका ने कड़े शब्दों में कहा है कि पाकिस्तान की खूफिया एजेंसी आईएसआई सभी आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है और अगर जरूरत पड़ी तो वो अकेले इन आतंकी नेटवर्कों के खिलाफ कार्रवाई करने में नहीं झिझकेगा.

आतंकी संगठनों का साथ दे रही है आईएसआई
अमेरिका के एक्टिंग अंडर सेक्रेटरी एडम जुबीन ने कहा, 'समस्या ये है कि पाकिस्तानी सरकार के अंदर कुछ फोर्सेस हैं. खासतौर पर पाकिस्तान की इंटर सर्विस इंटेलिजेंस (आईएसआई), जो पाकिस्तान में सभी आतंकी संगठनों के खिलाफ एक जैसी कार्रवाई नहीं करती.'

आतंकी संगठनों को अकेले तबाह करने में नहीं झिझकेगा अमेरिका
जुबीन ने आगे कहा, 'हम पाकिस्तानी में अपने साथियों से आग्रह करते हैं कि वो अपने देश में चल रहे सभी आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करें. हम उनकी मदद के लिए तैयार हैं. लेकिन इस बात में कोई शंका नहीं है कि अगर हम आतंक के खिलाफ पाकिस्तान का साथ देने के लिए प्रतिबद्ध हैं तो दूसरी तरफ अगर जरूरत पड़ी तो अमेरिका अकेले इन नेटवर्कों को तबाह करने में नहीं झिझकेगा.'

खुद आतंक से जूझ रहा है पाकिस्तान
एक कॉलेज में स्पीच देते हुए जुबीन ने कहा कि पाकिस्तान खुद आतंकवाद से पीड़ित रहा है और ऐसे हालात के बावजूद वहां कुछ आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई भी की गई है. जुबीन ने कहा, 'जाहिर तौर पर पाकिस्तान के लोग खुद आतंकवाद से पीड़ित हैं, स्कूलों, बाजारों और मस्जिदों समेत वहां कई आतंकी हमले हुए हैं. और इस तरह के आतंक में पाकिस्तान कुछ मायनों में पीछे हटा है. उत्तरपश्चिमी पाकिस्तान में आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करने में पाकिस्तानी को सफलता हासिल हुई है. उन्होंने आईएलआईएल को आतंकवादी संगठन घोषित किया है.'

जुबीन ने कहा कि पाकिस्तान की इन कोशिशों के बावजूद आईएसआई कुछ आतंकी संगठनों को सपोर्ट कर रहा है, जिसका अमेरिका विरोध करता है.

Related News

Latest Tweets