किसानों द्वारा की जा रहीं आत्महत्याओं की जांच हेतु बड़वानी एवं बालाघाट में कांग्रेस ने बनायीं समितियां

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: PDD                                                                         Views: 16880

Bhopal: 16 जून 2017, मंदसौर में पुलिस की गोली से हत्या के शिकार हुए 6 किसानों के बाद प्रदेश में लगातार किसानों द्वारा आत्महत्याओं का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है, प्रदेश में रोज कहीं न कहीं किसान अपनी खराब फसल, बिजली बिल, बैंक का कर्ज अदा न कर पाने के कारण आत्महत्या जैसा अप्रिय कदम उठाने पर मजबूर हो रहा है।

बीते एक सप्ताह के अंदर सागर, रायसेन, विदिशा, अशोकनगर आदि जिलें में किसानों द्वारा की गई आत्महत्याओं के बाद अब सीहोर, होशंगाबाद, बड़वानी और बालाघाट जिले में किसानों ने आत्महत्या कर अपनी जीवन लीला समापत कर दी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री अरूण यादव के निर्देश पर पार्टी ने उक्त जिलों में किसानों द्वारा की गई आत्महत्याओं की वस्तुस्थिति की जांच हेतु जांच समितियां गठित की हैं।

प्रदेश कांग्रेस के संगठन प्रभारी महामंत्री चंद्रिका प्रसाद द्विवेदी ने बताया है कि बड़वानी जिले में बैंक का कर्ज अदा न कर पाने के कारण सेंधवा के गा्रम पिस्नावल एवं ग्राम कुमठाना के कास्तिया फलिया किसान शोमला एवं भंगया ने आत्महत्या कर ली है, आत्महत्या की वस्तुस्थिति की जांच हेतु विधायक श्री बाला बच्चन, विधायक रमेश पटेल तथा श्री तोताराम महाजन की एक समिति बनाकर जांच की जिम्मेदारी सौंपी है। इसी प्रकार बालाघाट जिले के लालबर्रा तहसील के ग्राम बल्लारपुर में किसान रमेश पिता चुन्नीलाल ने आत्महत्या कर ली, जिसकी वस्तुस्थिति की जांच हेतु विधायकत्रय रजनीश सिंह, सुश्री हिना कांवरे और संजय उइके को जिम्मेदारी सौंपी है। वहीं सीहोर जिले के ग्राम बापचा बरामद में 70 वर्षीय बुर्जुग किसान खाजु खां ने पेड पर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली, जिसकी वस्तुस्थिति की जांच हेतु पूर्व मंत्री राजकुमार पटेल, विधायक शैलेन्द्र पटेल, रतनसिंह ठाकुर तथा प्रदेश कांग्रेस के सचिव राहुल किशन यादव को नियुक्त किया गया है। इसी प्रकार होशंगाबाद जिले के बाबई के चपलासन में किसान नर्मदाप्रसाद ने सूदखोर से तंग आकार आत्महत्या कर ली, जिसकी जांच हेतु पीसीसी महामंत्री श्रीमती सविता दीवान, विधायक आर.के. दोगने, सचिवद्वय लोकमन कुशवाहा तथा सत्येन्द्र फोजदार को जांच समिति में शामिल किया गया है।

श्री द्विवेदी ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के निर्देशानुसार समिति के सदस्यों को किसानों द्वारा की गई आत्महत्या की जांच हेतु घटना स्थल पर पहुंचकर मृतक किसान परिवारों से भेंट कर उन्हें सांत्वना देने एवं घटना की विस्तृत जांच कर प्रतिवेदन शीघ्र कांग्रेस कमेटी को प्रस्तुत करने हेतु कहा है।

Related News

Latest Tweets