कोस्मेटोलॉजी और एस्थेटिक मेडिसिन की दुनिया

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: Digital Desk                                                                         Views: 4911

Bhopal: आज की दुनिया में और पहले से कहीं अधिक, सौंदर्य को एक बहुत ही महत्बपूर्ण विशेष्ता माना जा रहा है। शारीरिक आकर्षण लोगो को रोजगार पाने, जीवन साथी खोजने में मद्दद करेगा, आम तौर पर: लोगों को उस डिमांडिंग सोसाइटी में फिट होने में मद्दद करेगा जो शारीरिक उपस्थिति को महत्ब और रिवार्ड देता है। अब वैश्विक एस्थेटिक मेडिसिन बाजार का आकार 2021 तक 13 बिलियन अमरीकी डालर से अधिक तक पहुचने का अनुमान है।



निकट भविष्य में, सौंदर्य देखभाल की मांग तेजी से वढ़ने की उम्मीद हे I भारत और चीन में सबसे अधिक आबादी 30 से 65 वर्षीय आयु के लोगो की है, और बहुद व्यापक कामकाजी आबादी के साथ वढ़ती प्रयोज्य आय इन देशों में सौंदर्य प्रक्रियाओं की मांग पैदा कर रही है I

न्यूनतम आक्रमणकारी प्रक्रियाओं को सक्षम बनाने वाले तकनीकी रूप से एडवांस सिस्टम की शुरुआत को सबसे प्रभावशाली विकाश चालक यानि ग्रोथ ड्राइबर के रूप में पहचाना जाता है I इसके आलावा,प्रयोज्य आय में व्रद्धि ने कॉस्मेटिक प्रक्रियाओं की मांग को काफी बड़ा दिया है I कुल मिलाकर,इन न्यूनतम आक्रमणकारी प्रक्रियाओं और उनके उत्पादों के साथ- साथ किफायती लागतो की उपलब्धता के बारे में व्यापक जागरूकता जैसे कारक वैश्विक स्तर पर मांग में व्रद्धि कर रहे है।



मेडिकल और पर्सानल केयर उत्पाद उध्योग कोस्मेटोलॉजी और एस्थेटिक मेडिसिन में मौजूद नवीनतम तकनीकों और उत्पादों का लाभ उठाने के लिए सार्वजनिक रूप से इस वढ़ती मांग को जारी रख रहे हैं। सामाज अपना कुछ बजट सौंदर्य को समर्प्रित कर रहा है, जिसे अब एक मापदंड के रूप में स्युकार किआ जा रहा है। यह बेहद लाभदायक आर्थिक गतिविधियों में बदल रहा है, जहां चिकित्शको और कोस्मेटोलॉजीस्ट की अपनी महत्वपूर्ण भूमिका और जगह है।



वैज्ञानिक और चिकीत्शा प्रगति का मतलब है की जनता के लिए समाधान की एक विस्तृत श्रृंखला उपलब्ध है, लेकिन केवल एक प्रशिक्षित चिकित्शक सुरक्षित और प्रभावी उपचार प्रदान करेगा। उपलब्ध तकनीकों में व्रद्धि के साथ, जनता में जागरूकता बड़ी हैं, बल्कि कोस्मेटोलॉजी और एस्थेटिक मेडिसिन में कुशल पेशेवरों की आवश्यक्ता में भी बड़ोतरी हुई है। कोस्मेटोलॉजी अब केवल टॉपिकल स्किन केयर से संबंधित नहीं है। लेजर ट्रीटमेंट, इंजेक्शन, फेशियल पिल्स अदि प्रक्रियाओं को उस पेशेवर द्दारा किआ जा सकता है जिसने पर्याप्त प्रशिक्षण प्राप्त किआ है। स्वाभाविक रूप से,कोस्मेटोलॉजी के क्षेत्र में प्रशिक्षण किसी भी स्थापित प्रैक्टिस या गतिबिधि को और अधिक आकर्षक बना देगा।



कोस्मेटोलॉजी प्रशिक्षित तकनीशियनों के लिए एक पुर्णकालिक करियर विकल्प भी है। कोस्मेटोलॉजी में प्रशिक्षण के साथ, पेशेवर सुरक्षित, प्रभावी और कभी-कभी जीबन बदलने वाले कॉस्मेटिक समाधानों को ट्राई करके मरीज को आसानी से सुचना व्यक्त कर सकता है। आज के सबसे प्रभावी थेराप्यूटिक स्किन केयर समाधानों में प्रशिक्षण प्राप्त करना वास्तव में किसी भी व्यवसायी के लिए एक बेहद रोमांचक संभावना है।



सौंदर्य उपचार की भी मांग के कारन एस्थेटिक मेडिसिन को स्पेशिएलिटी से जोड़ने का चयन करने में चिकित्सकीय राजस्व को बढ़ने वाली सब - स्पेशिएलिटी (उप -विशेषता ) और डिसिप्लिन्स (विषयों) में से एक है जो तकनीकी नवाचार के साथ बढ़ते रहेंगे। यह नैदानिक, उपचारात्मक पद्धतियों और उपचारो में प्रगति के मामले में न केवल उत्कृस्ट दृश्टिकोण का वादा करता है, बल्कि एस्थेटिक मेडिसिन में प्रशिक्षण को चुनना बौद्धिक और मानवीय रूप से एक रिवार्ड है जो अदभूद करियर की संभावनाएं प्रदान करती है।



एस्थेटिक मेडिसिन की प्रैक्टिस करने का वास्तविक लाभ देखभाल का प्रकार है जिसे चिकित्सक अपने मरीजों को पेश कर रहे है। ये प्रक्रियाएँ वैकल्पिक हैं और उन मरीज़ों पर की जाती है जो जीबन के लिए खतरनाक बीमारियों से ग्रस्त नहीं है। वे आमतौर पर स्वस्थ होते हैं, लेकिन सौंदर्य देखभाल उनके जीवन पर एक बहुद ही महत्वपूर्ण और साकारात्मक प्रभाव डालती है।



यह बहुत ही आकर्षक व्यवसाय का प्रतिनिधित्व करने के साथ -साथ उन लाभों को दर्शाता है जिनकी उम्मीद डॉक्टर्स अपनी खुद की प्रैक्टिस बिस्तार करने या किसी प्रतिष्ठित अस्पताल या पॉलीक्लिनिक में एस्थेटिक फिजिशियन का पद प्राप्त करने के लिए करते है।

कोस्मेटोलॉजी और एस्थेटिक मेडिसिन में प्रशिक्षण लेने के कई फायदे है। ये ऐसे आकर्षक बिषय है, जो सटीकता, धेरिया को बढ़ाते हैं और मरीज़ों के साथ प्रमुख एवं दीर्घकालिक संबंध बनाते है I दरअसल, सौंदर्य उपचार (एस्थेटिक ट्रीटमेंट) हमेशा मरीज और उसके देखभालकर्ता (केयर गिवर) द्वारा निर्णय लेने और लागू करने के लिए प्रोजेक्ट होते है। प्रक्रियाओं द्वारा पेश किए गए परिणाम अदभूद, जल्दी दिखाई देने वाले होते है और मरीज की अत्यधिक संतुष्टि का कारण बनते हैं, जो प्रशिक्षित चिकित्सक के लिए बिषयों को बहुद ही पुरस्कृत गतिबिधियाँ बनाते हैं।



फिर भी कोस्मेटोलॉजी या एस्थेटिक मेडिसिन में प्रशिक्षण प्राप्त करने की इच्छा रखने वाले पेशेवरों के लिए यह जरुरी है की उन्हें क्षेत्र के उन सवर्श्रेष्ठ प्रशिक्षिको अत्यधिक प्रशिक्षित डॉक्टरों की टीम द्वारा प्रशिक्षित किया जाये जो कोस्मेटोलॉजी और एस्थेटिक मेडिसिन में प्रैक्टिस और रिसर्च कर रहे हैं। अधिमानत: प्रशिक्षित पेशेवरों के प्रमाणित ट्रेक रिकॉर्ड के साथ स्थापित और अत्यधिक विषिष्ट संस्थान इन मानदंडों को पूरा कर सकता है। कोस्मेटोलॉजी और एस्थेटिक मेडिसिन में सही ट्रेनिंग कोर्स का चयन करना और सबसे अच्छे संस्थान का चयन करना उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि कॉस्मेटिक उपचार का लाभ उठाने की इच्छा रखने वाले मरीज के लिए चिकित्सक चुनना।









डॉ.?अजय?राणा?

आईएलएएमडी (www.ilamed.org) के संस्थापक और निदेशक विश्वव्यापी कुछ पेशेवर शैक्षणिक संस्थानों में से एक है प्रसाधन सामग्री और सौंदर्यशास्त्र चिकित्सा में प्रशिक्षण और हाथ से पाठ्यक्रम प्रदान करता है।



Related News

Latest Tweets