छह दिनों तक आसियान देशों के युवाओं की मेजबानी करेगा भोपाल

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: PDD                                                                         Views: 561

Bhopal: 13 अगस्त 2017। आसियान देशों के युवा 14 अगस्त से 19 अगस्त तक छह दिनों के लिए भोपाल आ रहे हैं। ये युवा मध्यप्रदेश के कई पर्यटक स्थलों का भ्रमण करेंगे और यहां की संस्कृति को समझने के लिए विशेषज्ञों का मार्गदर्शन प्राप्त करेंगे। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की पृष्ठभूमि से भाजपा में आए पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव की रूपरेखा के मुताबिक इन युवाओं को भारत के औद्योगिक विकास के साथ कदमताल करने के अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे। देश के दिग्गज नेतागण और औद्योगिक विकास के शीर्ष व्यक्तित्वों से मुलाकात के इस आयोजन में भारतीय युवाओं को विकास के नए आकाश से परिचित करने का अवसर उपलब्ध होगा।

इस आयोजन में मध्यप्रदेश के राज्यपाल ओम प्रकाश कोहली, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, युवा मामलों के मंत्री विजय गोयल, विदेश राज्य मंत्री जनरल वी.के.सिंह, विदेश सचिव प्रीति सरन, यूनाईटेड नेशंस के संयोजक यूरी आफानासिव, फिल्म अभिनेता अनुपम खेर, सांसद कानराड संगमा, मुख्य आर्थिक सलाहकार संजीव सान्याल, सांसद विजयंत जय पांडा, एस्सेल समूह के चेयरमेन सुभाष चंद्रा, भारतीय जनता युवा मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम महाजन, भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज,यूनाईटेड नेशंस युवा प्रतिनिधि जयात्मा विक्रमनायके जैसे अपने क्षेत्रों के धुरंधर अपने विचार व्यक्त करेंगे।

इस संबंध में आज जनसंपर्क मंत्री डॉ.नरोत्तम मिश्रा ने प्रमुख सूत्रधार इंडिया फाऊंडेशन के अपूर्व मिश्रा,सत्येन्द्र त्रिपाटी के साथ पत्रकार वार्ता में जानकारी दी। इस दौरान मुख्यमंत्री के सचिव एस.के.मिश्रा, सचिव एवं आयुक्त अनुपम राजन और भोपाल में हो रहे आयोजन के संयोजक अनिल पिल्लई भी उपस्थित थे।एसोसिएशन ऑफ साउथ-ईस्ट एशियन नेशंस (आसियान) में इंडोनेशिया, सिंगापुर, फिलीपींस, मलेशिया, ब्रुनेई, थाईलैंड, कंबोडिया, लाओ पीडीआर, म्यांमार और वियतनाम जैसे देश शामिल हैं। जबकि इन देशों के साथ भारत के सदियों पुराने सभ्यतागत संबंध रहे हैं, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पहल पर इन देशों के आपसी संबंधों में एक नई गर्माहट आई है।

नवंबर 2014 में, नयी पाई ता, म्यांमार में आयोजित 12 वें एशियान भारत शिखर सम्मेलन और नौवें पूर्व एशिया शिखर सम्मेलन में माननीय प्रधान मंत्री ने औपचारिक रूप से इस संबंध में नई पूर्व नीति को मंजूरी दी थी। इससे भारत-आसियान देशों के आपसी संबंध मजबूत हुए हैं और उनके बीच आर्थिक साझेदारी बढ़ाने का माहौल बना है। विश्व के भौगौलिक और राजनैतिक परिवेश में ये प्रयास मील का पत्थर साबित होगा।

आसियान-भारत वार्ता साझेदारी की 25 वीं वर्षगांठ के अवसर पर इंडिया फाउंडेशन, विदेश मंत्रालय, भारत सरकार (एमईए) और मध्यप्रदेश सरकार ने इन देशों के बीच आज के संदर्भ में साझा मूल्यों पर चर्चा के लिए ये आयोजन किया है। दक्षिण पूर्व एशिया के देशों के बीच दो सदियों पहले से चले आ रहे संबंधों को इस आयोजन से नया आयाम मिलेगा। इंडिया फाऊंडेशन का प्रयास है कि जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पहल पर मेक इन इंडिया का अभियान जोर पकड़ रहा है तब इन देशों के उद्योगपतियों के लिए भारत के युवा महत्वपूर्ण आकर्षण साबित होंगे।


Madhya Pradesh, MP News, Madhya Pradesh News



Related News

Latest Tweets