प्रदेश में अब गरीबों को नि:शुल्क अब सुपर स्पशियलटी उपचार मिलेगा

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: PDD                                                                         Views: 16660

Bhopal: 28 सितंबर 2017। प्रदेश में गरीबों को सरकारी अस्पतालों में निजी अस्पतालों के विशेषज्ञ डाक्टरों के माध्यम से सुर स्पेशियलिटी ट्रीटमेंट यानी उपचार मिलेगा जिसके तहत चार केटेगरी के अंतर्गत जनरल सर्जरी, आर्थोपेडिक्स, ईएनटी तथा गायनाक्लोजी शामिल है।
इसके लिये दीदयाल उपचार योजना में बदलाव किया गया है। जनरल सर्जरी में लेप्रोस्कोपिक कालेकाइस्टोमी, लेप्रोस्कोपिक एपेन्डिसेक्टोमी, लेप्रोस्कोपिक हर्नियोप्लास्टी हेरेनिया इंगुल्नल रिपेयर तथा ट्रान्यस्युरेथरल रिसेक्शन आफ प्रोस्टेट शामिल है जबकि आर्थोपेडिक्स में टोटल हिप रिप्लेसमेंट, टोटल नी प्लेसमेंट, आर्थोस्कोपी डायग्रोस्टिक, आर्थोस्कोपी थेरेप्युटिक विथाउट इम्प्लांट तथा आर्थोस्कोपी थेरेप्युटिक विथ इम्प्लांट
सम्मिलित है। ईएनटी में टाईप्मोनोप्लास्टी टाईप वन, टाईप्मोनोप्लास्टी टाईप टु, माडीफाईड रेडिकल मेस्टोडिक्टोमी तथा ओरल पालीपेक्टोमी शामिल है जबकि गायनाक्लोजी में केलपोस्कोपिक डायग्रोस्टिक प्रोसीजर, हाईस्ट्रोस्कोपिक डायग्रोस्टिक, हाईस्ट्रोस्कोपिक थेरेप्युटिक, लेप्रोस्कोपिक रिसेक्शन आफ ओवेरियन काईस्ट तथा लेप्रोस्कोपिक हाईस्टेक्टोमी शामिल है।

प्रदेश में राज्य सरकार ने दीनदयाल उपचार योजना वर्ष 2004 से शुरु की थी जिसमें सरकारी अस्पतालों में गरीबों के नि:शुल्क उपचार की व्यवस्था थी परन्तु अब तेरहल साल बाद इस योजना में बदलाव कर सुपरस्पेशियलिटी ट्रीटमेंट भी शामिल कर लिया गया है। निजी क्षेत्र के विशेषज्ञ डाक्टरों से आपरेशन कराने एवं उनसे देखभाल कराने पर उन्हें इसका शुल्क भी इसी योजना से भुगतान किया जायेगा।

पहले चरण में 12 जिले शामिल किये :
दीनदयाल सुपर स्पेशियलिटी ट्रीटमेंट योजना का लाभ देने के लिये पहले चरण में बारह जिले शामिल किये गये हैं जिनमें शामिल हैं : जबलपुर, छिन्दवाड़ा, सतना, उज्जैन, रतलाम, देवास, ग्वालियर, मुरैना, भोपाल, बैतूल, खण्डवा एवं सागर। बजट एवं विशेषज्ञ डाक्टर की उपलब्धता पर इस नई योजना को प्रदेश के शेष अन्य जिलों में लागू किया जायेगा।

एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि सरकारी जिला अस्पतालों में दीनदयाल सुरस्पेशियलिटी ट्रीटमेंट दिया जायेगा जिसके लिये विशेषज्ञ डाक्टरों का पैनल बनाया जायेगा। बीपीएल के लोगों को तो नि:शुल्क ट्रीटमेंट मिलेगा साथ ही एपील के लोग भी इसका लाभ उठा सकेंगे जिन्हें सीजीएचकी दरों का भुगतान करना होगा जोकि बाजार दर का एक तिहार्द या इससे भी कम होती है। अभी सुपरशियलिटी ट्रीटमेंट के आदेश जारी हुये हैं तथा आगामी तीन माह के अंदर इसका लाभ देना प्रारंभ कर दिया जायेगा।

- डॉ नवीन जोशी


Madhya Pradesh, MP News, Madhya Pradesh News

Related News

Latest Tweets

ABCmouse.com