राजधानी भोपाल पहुंची किसान आंदोलन की आग

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: DD                                                                         Views: 650

Bhopal: 9 जून 2017, इंदौर-भोपाल हाइवे पर किसानों का कब्जा, लगा रहा जाम
कई वाहनों को किया आग के हवाले, स्कूली बसों में तोड़ फोड़
पुलिस ने की हवाई फायरिंग, लाठी चार्ज और छोड़े आंसू गैस के गोले
शहर में बंद कराए गए बाजार

मंदसौर में 6 किसानों की मौत के बाद उग्र हुआ किसान आंदोलन की आग शुक्रवार को राजधानी पहुंच गई। किसानों ने भोपाल जिले के फंदा ब्लाक में इंदौर-भोपाल हाइवे जाम कर दिया। किसानों ने ट्रकों में आग लगाई। स्कूली बसों में तोडफ़ोड़ करने के साथ ही खजूरी सड़क थाने में वाहनों को आग के हवाले कर दिया। आंदोलनकारियों को काबू में करने के लिए पुलिस ने लाठियां भांजी और आंसू गैस के गोले छोड़े और हवाई फायरिंग भी की। इधर, भोपाल शहर में 10, 11 नंबर बाजार को किसानों ने बंद कराया।

पूर्व घोषणा के अनुसार इंदौर-भोपाल हाइवे पर ग्राम फंदा के पास सुबह से ही किसानों का आना शुरू हो गया। शुरूआत में सड़क पर किसान धरने पर बैठककर चक्का जाम कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने किसानों और किसान नेताओं को सड़क से हटाने की कोशिश की, जिसके बाद किसान उग्र हो गए। उन्होंने पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया। पुलिस और किसान आमने-सामने थे। इस दौरान उग्र भीड़ ने सिलेन्डर से भरे ट्रक में आग लगा दी। भीड़ को उग्र देख पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे, इसके बावजूद भी भीड़ काबू में नहीं आई और वहां से गुजर रही स्कूली बसों में तोड़-फोड़ की गई। इस दौरान इंदौर-भोपाल हाइवे जाम रहा। वाहनों का आवागमन बंद कर दिया गया। देर शाम तक भोपाल-इंदौर हाइवे पर जाम लगा रहा और फंदा के आस-पास के क्षेत्र में तनाव की स्थिति अभी भी बनी हुई है। पुलिस ने लगभग सौ से अधिक आंदोलनकारियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। सीहोर और भोपाल की ओर आ रहे वाहनों को भोपाल और सीहोर नाके पर रोका गया। आंदोलन को देखते हुए पुलिस ने भोपाल के वाहनों को बिलकिसगंज होते हुए इंदौर रवाना किया। इसी तरह सीहोर से भी बिलकिसगंज होकर वाहन भोपाल आए।

Related News

Latest Tweets