संयुक्त राष्ट्र में भारत पर बरसे नवाज शरीफ, कहा- कश्मीर से सेना हटे, जनमत संग्रह कराया जाए

Location: न्यूयॉर्क                                                 👤Posted By: Digital Desk                                                                         Views: 16491

न्यूयॉर्क:
21 सितम्बर 2016, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने बुधवार रात को संयुक्त राष्ट्र आम सभा को संबोधित किया. शरीफ ने अपने संबोधन की शुरुआत अपने देश को आतंकवाद का सबसे बड़ा पीड़ित बताकर की और उसके बाद कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत को जमकर कोसा. शरीफ ने हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान वानी को कश्मीर की आवाज बताते हुए कहा कि कश्मीर मुद्दा सुलझाए बिना भारत-पाक के अच्छे संबंध संभव नहीं है.

कहा- भारत से बातचीत चाहता है पाकिस्तान
शरीफ ने कहा कि उनका देश भारत के साथ बातचीत चाहता है और बातचीत में ही दोनों देशों का हित है. उन्होंने कहा कि कश्मीर में भारतीय सेना लोगों से बर्बरता कर रही है. मानवाधिकारों का उल्लंघन हो रहा है. कश्मीर में कर्फ्यू खत्म किया जाए और सभी राजनीतिक कैदियों की रिहाई हो.

कश्मीर में जनमत संग्रह की मांग उठाई
नवाज शरीफ ने कहा कि पाकिस्तान कश्मीर में भारतीय सेना की बर्बरता को लेकर संयुक्त राष्ट्र को डोजियर सौंपेंगा. उन्होंने कश्मीर से सेना हटाने की मांग की और कहा कि लोगों की राय जानने के लिए जनमत संग्रह कराया जाए. उन्होंने संयुक्त राष्ट्र से कश्मीर हिंसा की जांच कराने की मांग की.

'कश्मीर पर वादे पूरे करने के लिए UN भारत से कहे'
शरीफ ने कहा, 'कश्मीर के आदमी, औरत और बच्चे आजादी की मांग कर रहे हैं। पाकिस्तान उनकी इस मांग का समर्थन करता है. हम कश्मीर में एक्स्ट्रा जूडिशल किलिंग्स की स्वतंत्र जांच की मांग करते हैं.' उन्होंने कहा कि यूएन भारत से कहे कि वह कश्मीर पर अपना वादा पूरा करे. उन्होंने आरोप लगाया कि भारत ने बातचीत करने से पहले अस्वीकार्य शर्तों को रखा. बातचीत दोनों देशों की रुचि के हिसाब से होनी चाहिए.

आतंकी बुरहान वानी को बताया युवा नेता
शरीफ ने अपने संबोधन में हिजबुल कमांडर बुरहान वानी का भी जिक्र किया. उन्होंने एक बार फिर उसे आतंकी नहीं कहा. शरीफ ने कहा, 'बुरहान वानी, जो एक युवा नेता था, उसे भारतीय सेना ने मार डाला. बुहरान कश्मीर की आवाज है. कश्मीर की नई पीढ़ी आजादी की मांग कर रही है.

'पाकिस्तान को मिले NSG में एंट्री'
शरीफ ने अपने भाषण में NSG (न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप) का मुद्दा भी उठाया. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान एनएसजी सदस्यता के लिए पूरी तरह योग्य हैं. हम न्यूक्लियर टेस्ट बैन ट्रीटी पर बात करने के लिए भी तैयार हैं. शरीफ ने पाकिस्तान को जिम्मेदार परमाणु देश बताया और कहा कि हमारे पड़ोसी देश लगातार हथियार बढ़ाए जा रहे हैं.

'हमारा देश आतंकवाद का सबसे बड़ा शि‍कार'
नवाज शरीफ ने कहा कि आतंकवाद एक विश्वस्तरीय समस्या है, हम विदेशी ताकतों को पाकिस्तान के विकास को अस्थिर करने की अनुमति नहीं देंगे. उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान आतंकवाद का सबसे बड़ा पीड़ित है. हमारा देश आतंकवाद से लड़ रहा है और दुनिया में आतंक निरोधी अभियानों में सबसे आगे हैं. पाकिस्तान ने आतंकवादी हमलों में अपने हजारों सैनिक गवाएं हैं.'

Related News

Latest Tweets