"ई" गाड़ी में सरकार बैलगाड़ी में विपक्ष...दोनो का मकसद जनता की वोटगाड़ी

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: Admin                                                                         Views: 784

Bhopal: मध्य प्रदेश में पेट्रोल डीजल पर देश में सबसे ज्यादा वेट लगता है, इसी मुद्दे पर मंगलवार को सरकार ओर विपक्ष के बीच ई गाड़ी ओर बैल गाड़ी की जंग शुरू हुई। सुबह जंहा सूबे के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ई गाड़ी में मंत्रालय पहुचे वहीं शाम को कांग्रेस के दिग्गजों ने पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों को लेकर बैल गाड़ी से रैली निकाली। लेकिन इन दोनो दलों के बीच पिस रही है वो जनता जो न तो ई गाड़ी में चलती है ना ही बैलगाड़ी, वो चलती है पेट्रोल या डीज़ल गाड़ी में जिसके दाम आसमान छू रहे हैं।

ई गाड़ी का टाटा कंपनी की गाड़ी है उसके अंदर से सीएम के ड्राइवर बताता हुआ कितनी चार्ज करने पर कितनी चलेगी।
देश में पेटोल डीजल पर सबसे ज्यादा वेट मध्य प्रदेश में लगता है ऐसे में जनता की पेट्रोल डीजल के रेट कम करने की मांग की चिंता भले ही सरकार को हो न हो लेकिन पर्यावरण की चिंता जरूर सरकार को हैं।

सीएम शिवराज के अनुसार "ये प्रयोग है डीजल चलित गाड़ी न हो कार्बन न बढ़े पर्यावरण दिवस के दिन इसको चलाया गया है ये बैटरी से चलेगी 140 किलोमीटर चलेगी,सोलर या बिजली से चलेगी। पर्यावरण के लिए हमारा कदम है।"

वंही 14 सालों से सत्ता की खोई हुई जमीन तलाश रही कांग्रेस, पेट्रोल डीजल के दामो में ही वोट बैंक तलाश रही है। दरअसल जनता के साथ साथ किसान भी बढ़ते पेट्रोल डीजल के बढ़ते रेट से परेशान हैं। ऐसे में कांग्रेस ने सीएम की ई गाड़ी के बाद बैलगाड़ी यात्रा निकाल कर माहौल बनाने की कोशिश की।वही सीएम की ई गाड़ी के मुद्दे पर कांग्रेस का कहना था कि हमारी यात्रा किसानों की यात्रा है और शिवराज की सूट बूट की।

कमलनाथ प्रदेश अध्यक्ष कांग्रेस कहते हैं .."सीएम की यात्रा कलाकारी की यात्रा है हमारी सच्चाई की है।
ज्योतिरादित्य सिंधिया (चेयरमेन इलेक्शन केम्पेन कमेटी)"हमारी यात्रा किसानों की यात्रा है इनकी उत्त्तर सूटबूट की यात्रा है"

- एक वक्त था जब विपक्ष में रहते हुए भाजपा के पित्र पुरुष अटल बिहारी बाजपेयी ने बैल गाड़ी यात्रा निकली थी तब देश पर कांग्रेस का राज था वक्त बदल निजाम बदला अब बैलगाड़ी पर कांग्रेस है और सत्ता में भाजपा।लेकिन तब भी जनता पिसने को मजबूर थी अब भी जनता पिस रही है।

e कार- 12 लाख की कार।
बैटरी चार्जर लगे होंगे सीएम हाउस में मंत्रालय में।
सीएम के लिए 7 कारे खरीदना है दो आई हैं।
1 km पर खर्चा .89 रुपये।
पेट्रोल पर 1km ख़र्चा- 5
डीजल पर -4.2 रुपये


डॉ. नवीन जोशी





Related News

Latest Tweets

Latest News