उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने खेल प्रतिभा खोज पोर्टल आरम्भ किया

Location: New Delhi                                                 👤Posted By: PDD                                                                         Views: 1152

New Delhi: 28 अगस्त 2017। युवा एवं खेल मंत्रालय ने देश के युवाओं में सर्वश्रेष्ठ प्रतिभा की तलाश के लिए प्रतिभा खेल पोर्टल आरम्भ किया। इस पोर्टल को आज उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू द्वारा इंदिरा गाँधी स्टेडियम, नई दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में आरम्भ किया गया। खेल क्षेत्र में इस महत्त्वपूर्ण पहल को देखने के लिए युवा मामले और खेल राज्य मंत्री, (स्वतन्त्र प्रभार) विजय गोयल, सचिव, खेल इंजेटी श्रीनिवास, खेल रत्न एवं अर्जुन पुरस्कार विजेता खिलाड़ी तथा हजारों स्कूली छात्र भी इस अवसर पर उपस्थित थे। स्कूली छात्रों ने इस अवसर पर कई सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए।

इस अवसर पर अपने संबोधन में उपराष्ट्रपति महोदय ने कहा कि इस तरह की पहल से न केवल सर्वश्रेष्ठ प्रतिभाओं को जानने में सहायता मिलेगी अपितु सभी आवेदकों को एक स्तरीय खेल क्षेत्र प्राप्त होगा तथा प्रतिस्पर्धात्मक वातावरण भी बनेगा।

उन्होंने कहा कि खेल राष्ट्र निर्माण प्रक्रिया का एक अभिन्न भाग है। क्योंकि खेल वैयक्तिक विकास, सामुदायिक विकास, सामाजिक सहभागिता और आर्थिक विकास के संदर्भ में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। किसी देश को खेल शक्ति बनने के लिए एक सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण तथ्य है सही प्रतिभा की पहचान करना और उसका विकास करना। विश्व में कुल आबादी का सातवाँ हिस्सा हमारे देश में निवास करता है। और यहां विशेष रूप से 450 मिलियन युवाओं में प्रतिभा का कोई अभाव नहीं है। श्री नायडू ने कहा कि वास्तव में तो हमारे देश में अत्यधिक प्रतिभाएं मौजूद हैं परन्तु इन्हें उपयोग में लाने के लिए प्रतिभाओं को सहायता देने और आगे बढ़ाने एवं विश्व चैम्पियन बनने के लिए हमें प्रतिभाओं को पहचानने और उनमें वृद्धि करने हेतु एक व्यापक व्यवस्था बनानी पड़ेगी।

उन्होंने आगे कहा कि राष्ट्रीय खेल प्रतिभा खोज पोर्टल का प्लेटफॉर्म युवा मामलों और खेल मंत्रालय तथा भारतीय खेल प्राधिकरण द्वारा सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का चयन करने में अत्यधिक महत्त्वपूर्ण होगा। इस बड़ी पहल के लिए श्री विजय गोयल को बधाई देते हुए उपराष्ट्रपति ने कहा कि यह पोर्टल देश में उपलब्ध सर्वश्रेष्ठ खेल प्रतिभाओं को आकर्षित करने में मील का पत्थर साबित होगा। यह प्लेटफॉर्म सही खिलाड़ी का चयन करने के लिए एक तीव्र एवं पारदर्शी तंत्र प्रदान करेगा।

श्री विजय गोयल ने अपने भाषण में कहा कि सरकार खेल और खिलाड़ियों के समग्र विकास के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के मार्ग दर्शन में खिलाड़ियों के अनुकूल वातावरण बनाने की नीतियां बनाई जा रही है। 27 अगस्त, 2017 को मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री के भाषण का संदर्भ देते हुए श्री गोयल ने कहा कि हमारे प्रिय प्रधानमंत्री इस पोर्टल में वैयक्तिव रूप से रूचि ले रहे है ताकि उभरती और प्रच्छन्न प्रतिभाएं इसका लाभ उठा सकें और भविष्य में देश में पदक लाने के लिए अपनी दक्षताओं में और अधिक वृद्धि कर सकें।

उन्होंने कहा कि भारतीय खिलाड़ी विश्व में विभिन्न खेलों में निरन्तर अग्रणी रहे हैं। उन्होंने हाल ही में सम्पन्न ग्लासगो में सम्पन्न विश्व बैडमिन्टन खेलों का जिक्र किया। जिसमें सायना नेहवाल और पी.वी.सिन्धु ने अपने कठोर परिश्रम, प्रतिभा और अनुशासन से क्रमशः काँस्य एवं रजत पदक जीता। श्री गोयल ने आगे कहा कि खिलाड़ी अपनी तरफ से श्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहे हैं और अब खेल फेडरेशनों का यह कर्त्तव्य एवं दायित्व है कि वे इस ढंग से कार्य करें जिससे प्रतिभाशाली खिलाड़ी अपने सम्बन्धित खेल में सर्वश्रेष्ठ परिणाम प्राप्त कर सकें।

इस पोर्टल पर अपनी उपलब्धियों और वीडियो अपलोड करने एवं पंजीकृत करने के लिए पंजीकरण प्रक्रिया का पालन करते हुए व्यक्ति www.nationalsportstalenthunt.com या www.nationalsportstalenthunt.in देखें।

Related News

Latest Tweets

Latest News