प्रदेश की खुफिया पुलिस के नये प्रशासनिक भवन में दी जायेगी काउन्टर टेरेरिज्म ग्रुप को ट्रेनिंग

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: Admin                                                                         Views: 252

Bhopal: 1 अप्रैल 2018। प्रदेश सरकार की खुफिया पुलिस का भोपाल में नया प्रशासनिक बनेगा, जिसमें काउन्टर टेरेरिज्म ग्रुप को ट्रेनिंग दी जायेगी। इसके लिये राज्य सरकार ने उसे 26.433 हैक्टेयर भूमि का आवंटन किया है।

ज्ञातव्य है कि खुफिया पुलिस को पुलिस मुख्यालय में गुप्तवार्ता यानि विशेष शाखा कहा जाता है। इसके अंतर्गत एसटीएफ, एटीएस आदि शाखायें भी आती हैं। भोपाल के पुलिस मुख्यालय परिसर में नया बहुमंजिला भवन बना हुआ है तथा इसमें पुमु के कई कार्यालय शिफ्ट हो चुके हैं, परन्तु गुप्तवार्ता शाखा इसमें शिफ्ट नहीं हुई है क्योंकि उसकी वर्किंग अन्य शाखाओं से अलग और गोपनीय होती है। इसके अलावा गुप्तवार्ता शाखा को अपने यहां पदस्थ कर्मियों को विशेष ट्रेनिंग भी देना होती है जिसके लिये उसे अलग से एक केंद्र की आवश्यक्ता थी।

इसी कारण से राज्य सरकार ने गुप्तवार्ता शाखा के प्रशासनिक भवन हेतु भोपाल जिले की हुजूर तहसील के ग्राम तूमड़ा में 26.433 हैक्टेयर भूमि का आवंटन किया है। यह भूमि भौंरी स्थित पुलिस अकादमी के पास है। हालांकि इस नये बनने वाले प्रशासनिक भवन में समूची गुप्तवार्ता शाखा का स्ािानांतरण नहीं होगा तथा इसके आला अधिकारी पूर्ववत पुलिस मुख्यालय में ही बैठेंगे। हाल ही में मप्र मानव अधिकार आयोग ने पुलिस मुख्यालय भोपाल के पुराने जर्जर भवन में पुलिस अधिकारी/कर्मचारियों के बैठने को उनकी जीवन के साथ खिलवाड़ मानते हुए संज्ञान लिया है। आयोग ने इस सिलसिले में पुलिस महानिदेशक, मध्यप्रदेश, पुलिस मुख्यालय, भोपाल से प्रतिवेदन मांगते हुए पूछा है कि उपयोग योग्य न होने पर भी अधीनस्थ पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों से जोखिमपूर्ण परिस्थिति में पुरानी/जर्जर बिल्डिंग में कार्य कराया जा रहा है। उनके लिए अन्यंत्र सुरक्षित कार्यस्थल की क्या व्यवस्था की गई है।

आईजी गुप्तवार्ता मकरंद देउस्कर ने बताया कि भोपाल के ग्राम तूमड़ा में गुप्तवार्ता शाखा के प्रशासनिक भवन हेतु राज्य सरकार द्वारा भूमि का आवंटन हुआ है। परन्तु भवन बनाने के लिये अभी राज्य सरकार ने बजट आवंटित नहीं किया है। ग्राम तूमड़ा में हम हाक फोर्स और सीटीयू यानि काउन्टर टेरेरिज्म ग्रुप के सदस्यों को ट्रेनिंग देंगे।

- डॉ नवीन जोशी

Related News

Latest Tweets

Latest News