कमलनाथ सरकार मनायेगी राजीव गांधी की 75 वीं वर्षगांठ

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: DD                                                                         Views: 232

Bhopal: युवा संकल्प वर्ष के रुप में कार्यक्रम की शुरुआत 20 अगस्त से होगी

17 अगस्त 2019। गांधी परिवार से अपनी नज़दीकी और वफादारी निभाने की खातिर कमलनाथ पूरे वर्ष राज्य में राजीव गांधी के नाम पर सरकारी उत्सव मनाएंगे। 20 अगस्त से इस वार्षिक उत्सव का आगाज होगा।

राज्य की कमलनाथ सरकार भारत रत्न स्वर्गीय राजीव गांधी की 75 वीं वर्षगांठ को युवा संकल्प वर्ष 2019-20 के रुप में मनायेगी। इसके तहत 20 अगस्त 2019 को सद्भावना दिवस पर राजधानी भोपाल में कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा तथा अगले साल 21 मई 2020 को इस वर्षगांठ का समापन किया जायेगा।

राज्य में यह कार्यक्रम उच्च शिक्षा विभाग द्वारा संचालित किया जायेगा। इस संबंध में सभी विश्वविद्यालयों के कुल सचिवों और सभी शासकीय एवं अशासकीय महाविद्यालयों के प्राचार्यों को निर्देश जारी कर दिये गये हैं। युवा संकल्प वर्ष के अंतर्गत राज्य स्तरीय सद्भावना दिवस एवं सद्भावना मार्च का आयोजन 20 अगस्त 2019 को अपरान्ह साढ़े बारह बजे मिन्टो हॉल भोपाल में आयोजित होगा। इस आयोजन में प्रदेश के 150 से अधिक विद्यार्थी चयनित होकर शामिल होंगे। इसके साथ ही राज्य स्तरीय आयोजन के उद्घाटन के अवसर पर भोपाल संभाग के सभी महाविद्यालयों से विद्यार्थी तथा प्राध्यापक आमंत्रित किये गये हैं।

निर्देशों में आगे बताया गया है कि युवा संकल्प वर्ष का शुभारंभ सद्भावना दिवस 20 अगस्त 2019 से आरंभ होकर 21 मई 2020 तक संचालित रहेगा। युवा संकल्प वर्ष के अंतर्गत तीन राज्य स्तरीय आयोजनों/प्रतियोगिताओं की रुपरेखा निर्धारित की गई है। इसमें महाविद्यालय स्तर से लेकर राज्य स्तर तक आयोजन किये जायेंगे। समस्त आयोजनों में राजीव गांधी के जीवन वृत्त तथा उनके राष्ट्रीय एवं अंतराष्ट्रीय अवदान पर स्थानीय विशेषज्ञों को आमंत्रित कर उनके संस्मरणों एवं विचारों से छात्र-छात्राओं को लाभान्वित और उत्प्रेरित किया जायेगा।

ऐसा होगा सद्भावना मार्च :
20 अगस्त को सद्भावना मार्च मिन्टो हॉल भोपाल से आरंभ होकर राजभवन के सामने से होते हुये लाल परेड मैदान पहुंचकर विसर्जित होगा। इस दौरान संबंधित महाविद्यालय के विद्यार्थी अपने हाथों में अपने महाविद्यालय के नाम की पट्टिका लिये होंगे।
विभागीय अधिकारी ने बताया कि 20 अगस्त के आयोजन के बाद साल भर प्रदेश के साढ़े चौदहसौ महाविद्यालयों और 35 विश्वविद्यालयों में भी इसी प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे।


- डॉ. नवीन जोशी

Related News

Latest Tweets