पूर्व विधायकों के लिये अब एमएलए रेस्ट हाऊस में 25 कक्ष आरक्षित रहेंगे

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: DD                                                                         Views: 340

Bhopal: 5 हजार सत्कार भत्ता एवं फोटोकापी की मशीन भी स्पीकर ने मंजूर की
7 सितंबर 2021। अब राजधानी भोपाल में स्थित एमएलए रेस्ट हाऊस में पूर्व विधायकों के लिये 25 कक्ष आरक्षित रहेंगे। इनमें 5 कक्ष पूर्व महिला विधायकों के लिये रिजर्व रहेंगे। इन कक्षों में सिर्फ पूर्व विधायक ही ठहर सकेंगे। इसके अलावा, पूर्व विधायक दल के विधानसभा भवन स्थित दोनों कार्यालयों में आने वाले पूर्व विधायकों के चायपान आदि के लिये सत्कार भत्ते के रुप में 5-5 हजार रुपये हर माह दिये जायेंगे और दोनों कार्यालयों में फोटोकॉपी मशीन भी विधानसभा सचिवालय द्वारा लगाई जायेगी।
उक्त तीनों मामलों की स्वीकृति स्पीकर गिरीश गौतम ने दे दी है। उल्लेखनीय है कि वर्ष 1990 में पूर्व विधायक मंडल का गठन हुआ था जिसमें सभी दलों के पूर्व विधायक शामिल थे। वर्ष 2003 में कांग्रेस दल के पूर्व विधायकों के लिये पूर्व विधायक मंडल मप्र तथा भाजपा के पूर्व विधायकों के लिये पूर्व विधायक परिषद कार्यालय मप्र बना दिया गया है। कांग्रेस वाले पूर्व विधायक मंडल में गैर भाजपाई दलों के पूर्व विधायक भी शामिल किये गये हैं।
प्रदेश में इस समय करीब 700 पूर्व विधायक हैं तथा तीन सौ दिवंगत पूर्व विधायकों के परिजनों को फैमिली पेंशन मिल रही है। जीवित पूर्व विधायकों को प्रति माह 35 हजार रुपये (इसमें 20 हजार पेंशन एवं 15 हजार चिकित्सा भत्ता शामिल है) तथा दिवंगत विधायकों के परिजनों को 18 हजार रुपये फैमिली पेंशन हर माह विधानसभा सचिवालय द्वारा दी जा रही है। कांग्रेस पक्ष वाले पूर्व विधायक मंडल ने स्पीकर गिरीश गौतम को ज्ञापन देकर चिकित्सा भत्ता 15 हजार से बढ़ाकर 25 हजार रुपये करने, फैमिली पेंशन 18 हजार से बढ़ाकर 35 हजार रुपये करने, ट्रेन में एसी फस्र्ट क्लास की सुविधा देने (अभी सेकण्ड एसी में सुविधा है), हवाई यात्रा की सुविधा देने, नि:शुल्क फास्ट टैग देने, साल में रेल कूपन 24 हजार रुपयों से बढ़ाकर 40 हजार रुपये तक करने तथा नई दिल्ली स्थित मप्र भवन में पूर्व विधायकों के ठहरने की अवधि साल में 13 दिन से बढ़ाकर 24 दिन करने तथा यही सुविधा मुम्बई स्थित मप्र सरकार के मध्यलोक भवन में ठहरने के लिये देने की भी मांग की है।
पूर्व विधायक मंडल मप्र की सुविधा संबंधी उप समिति के अध्यक्ष राजेन्द्र मिश्रा ने बताया कि हमारी तीन मांगों पर स्पीकर ने सहमति देकर निर्णय ले लिया है तथा शेष मांगों पर आवश्यक कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है।


डॉ. नवीन जोशी

Related News

Latest Tweets