×

रूसी सितारों का भारतीय सोशल मीडिया पर जलवा, सीमाओं के पार दिलों को जोड़ा

prativad news photo, top news photo, प्रतिवाद
Location: भोपाल                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 810

भोपाल: 17 जून 2024। भारत में रूसी महिलाओं का आकर्षण और सफलता दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। सोशल मीडिया पर हजारों प्रशंसकों के साथ, ये महिलाएं अब भारत में लोकप्रिय सितारे बन चुकी हैं। प्रमुख नामों में एवगेनिया बेल्स्काया, यूलिया असलमोवा और एकातेरिना रमन शामिल हैं, जिन्होंने भारत की संस्कृति और अवसरों से प्रभावित होकर इसे अपना घर बना लिया है।

एवगेनिया बेल्स्काया: भारतीय जीवन की शांत सुंदरता


गोवा में छुट्टियों के दौरान, अभिनेत्री, मॉडल और निर्माता एवगेनिया बेल्स्काया को भारत से ऐसा लगाव हुआ कि वह यहां बस गईं। मास्को की भीड़भाड़ से दूर, गोवा की शांति ने उन्हें मोहित कर लिया। अब, 16,000 से अधिक इंस्टाग्राम फॉलोअर्स के साथ, बेल्स्काया अपने भारतीय जीवन की खूबसूरती और स्वतंत्रता को सोशल मीडिया पर साझा करती हैं।

यूलिया असलमोवा: भारत में करियर और मातृत्व की यात्रा


यूलिया असलमोवा, जो अब एक मार्केटिंग फर्म में एशिया प्रमुख हैं, ने भारत में न केवल प्यार और मातृत्व पाया, बल्कि व्यावसायिक अवसरों का भी लाभ उठाया। 15,000 से अधिक सोशल मीडिया फॉलोअर्स के साथ, असलमोवा ने स्वीकार किया कि नए सांस्कृतिक परिवेश में ढलना आसान नहीं था। खाने, भाषा, सामाजिक मानदंडों और कार्यशैली के अंतर ने कई सांस्कृतिक झटके दिए, लेकिन उन्होंने इन चुनौतियों का डटकर सामना किया। "रूसी व्यवसाय में हम सीधे होते हैं, लेकिन यहां कूटनीति महत्वपूर्ण है," वह कहती हैं।

एकातेरिना रमन: फैशन और संस्कृति का संगम


181,000 से अधिक इंस्टाग्राम फॉलोअर्स के साथ, फैशन ब्लॉगर एकातेरिना रमन भी भारतीय संस्कृति में समायोजन की चुनौतियों से नहीं बच पाईं। अपने भारतीय पति के साथ मध्य प्रदेश में रहते हुए, उन्होंने ऐसे रीति-रिवाजों का सामना किया जो उनके लिए नए थे। "हर दिन पारंपरिक कपड़े पहनना मेरे लिए नहीं था," वह कहती हैं, "लेकिन मैं उन्हें खास अवसरों के लिए पसंद करती हूं।"

शुरुआती कठिनाइयों के बावजूद, इन रूसी महिलाओं ने भारतीय संस्कृति को आत्मसात कर लिया है। उन्होंने न केवल सफल करियर बनाए बल्कि प्यार भी पाया और सांस्कृतिक प्रतीक बन गईं। यह साबित करते हुए कि सोशल मीडिया सीमाओं के पार दिलों को जोड़ सकता है, ये महिलाएं भारत और रूस के बीच एक सांस्कृतिक पुल का निर्माण कर रही हैं।

Related News

Latest News

Global News