कमलनाथ ने कहा- कृषि क्षेत्र बहुत महत्वपूर्ण, लानी होगी क्रांति

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: डिजिटल डेस्क                                                                         Views: 7238

Bhopal: 31 दिसंबर 2018। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि कृषि क्षेत्र बहुत महत्वपूर्ण है और इसमें क्रांति लाना बहुत जरूरी है।



मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार अपने संसदीय क्षेत्र छिंदवाड़ा पहुंचने के बाद कल देर शाम कमलनाथ ने पत्रकारों से कहा कि किसान किस चीज से पीड़ित नहीं है। खाद, बीज, सिंचाई और खेती से जुड़े हर मामले में उसका शोषण होता है। महत्वपूर्ण बात तो यह है कि किसानों के मामले में उन्हें न्याय सामान्यत: नहीं मिल पाता है। इसलिए उनकी प्राथमिकता कृषि क्षेत्र में क्रांति लाने की रहेगी।



कमलनाथ ने उदाहरण देते हुए कहा कि देश में बरसों से दाल का आयात किया जा रहा है। जब दाल का आयात होगा, तो देश के किसानों को दाल के अच्छे मूल्य कहां से मिलेंगे। इस मामले में भी किसानों के हित में निर्णय लेने होंगे।



एक सवाल के जवाब में कमलनाथ ने कहा कि वे दिखावे के लिए इनवेस्टर्स समिट नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि उनको देश विदेश के उद्योगपतियों की ओर से मुख्यमंत्री बनने पर बधाई संदेश दिए जा रहे हैं और उनमें से अनेक के मिलने के लिए भोपाल आने की जानकारी है।



कमलनाथ के मुताबिक उन्होंने सभी से कहा है कि वे खाली हाथ नहीं आएं। राज्य के लिए क्या कर सकते हैं, इस संबंध में प्रस्ताव भी साथ लाएं।



कमलनाथ ने कहा कि उन्होंने भोपाल मेट्रो रेल परियोजना के संबंध में अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए हैं। साथ ही उन्होंने कहा है कि मेट्रो रेल सीमित जगह ही जा सकती है। इसलिए उन्होंने तो मोनो रेल का प्रोजेक्ट शुरू करने का भी सोचा है। यह रेल काफी कम जगह घेरकर चलती है और इसमें भू अधिग्रहण जैसी समस्याएं भी नहीं आती हैं।



कमलनाथ ने प्रधानमंत्री रोजगार योजना की समीक्षा करने की जानकारी दी और कहा कि अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम का दुरुपयोग नहीं हो और अन्य किसी के साथ भी अन्याय नहीं हो, इस भावना के साथ प्रदेश शासन चलेगा।



उन्होंने कहा कि नौकरियों में पदोन्नतियों को लेकर आरक्षण का मामला अदालत में विचाराधीन है।



उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि कौशल प्रशिक्षण कितना दिया जा रहा है, इससे ज्यादा महत्वपूर्ण बात यह है कि कितने लोगों को रोजगार मिला है। रोजगार दिलाना महत्वपूर्ण है और ऐसे ही प्रशिक्षण या पाठ्यक्रम कार्यक्रम युवाओं को सिखाने पर प्रदेश सरकार काम करेगी।



उन्होंने कहा कि सरकार नौकरी के केंद्रीयकृत अवसर मुहैया कराने की बजाए जिला स्तर पर नौकरी देने की नीति पर चलेगी।



कमलनाथ ने स्पष्ट किया कि फिल्म एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर पर राज्य में प्रतिबंध नहीं लगेगा।



इसके पहले मुख्यमंत्री बनने के बाद कमलनाथ कल पहली बार अपने गृह नगर छिंदवाड़ा पहुंचे, जहां लोगों ने उनका शानदार स्वागत किया। उन्होंने जन आभार रैली को संबोधित किया। वे आज और कल भी छिंदवाड़ा में रहेंगे।

Related News

Latest Tweets