बैंकिंग क्षेत्र की आतंरिक सच्चाई को उजागर कराती हिंदी फीचर फिल्म 'द ड्रीम जॉब'

Location: Mumbai                                                 👤Posted By: PDD                                                                         Views: 763

Mumbai: आज हर युवा बड़ा ऑफिसर बनाना चाहता है चाहे गवर्नमेंट जॉब हो या कॉर्पोरेट सेक्टर में या बैंकिंग और फाइनेंस में हो। लेकिन अब सरकारी नौकरी तो जल्दी नहीं मिलती है, जिसके कारण कॉर्पोरेट सेक्टर में या बैंकिंग और फाइनेंस में बड़े अरमानो के साथ जाने की कोशिश करता है और उसके लिए तन-मन-धन लगाकर कोशिश करता और कामयाब भी होता है। लेकिन वहां पहुंचने के बाद क्या होता है, खासकर के बैंकिंग और फाइनेंस सेक्टर में उसकी की सच्चाई को उजागर करती है हिंदी फीचर फिल्म 'द ड्रीम जॉब'। जिसका निर्माण रियल रील्स प्रोडक्शंस के तहत निर्माता विनोद अदस्कार, संतोष पाटिल, बी वी चोपड़े, एस गोरे व मुकेश मिश्रा द्वारा किया गया है। इसके लेखक और निर्देशक मुकेश मिश्रा है। यह फिल्म ११ अगस्त २०१७ को फिल्म के डिस्ट्रीब्यूटर 'रिच जूनियर्स एंटरटेनमेंट के एमडी विनोद निश्चल द्वारा पूरे भारतवर्ष में रिलीज़ की जा रही है। फिल्म को सेंसर बोर्ड द्वारा यू ए सर्टिफेकट दिया गया है।

फिल्म 'द ड्रीम जॉब' के लेखक- निर्देशक मुकेश मिश्रा है जोकि कई सीरियल, डॉक्यूमेंट्री, विज्ञापन फिल्म,शार्ट फिल्म इत्यादि का निर्देशन कर चुके है। बतौर निर्देशक इनकी पहली हिंदी फीचर फिल्म है और वे बैंकिंग सेक्टर में भी काम कर चुके है। इस फिल्म के बारे में कहते है," आज बैंकिंग सेक्टर युवा पीढ़ी को दूर से काफी अच्छा लगता है, लेकिन उसके अंदर की सच्चाई उनको जॉब लगने के बाद पता चलती है। बैंकिंग सेक्टर के आतंरिक सच्चाई को दिखने वाली शायद यह पहली फिल्म होगी। इसमें ९० प्रतिशत एनएसडी के एक्टर है और यह पूरी फिल्म पूना में शूट किया है। सभी एक्टरों को महीनो वहां बैंकों में बैठाकर उनके कामकाज का तरीका और ग्राहकों के बर्ताव को दिखाया और उसके बाद बैंक बंद होने के बाद उनके मैनेजर और लोगों से सवाल जवाब करके सभी को पूरी तरह तैयार करने के बाद फिल्म शूट हुई है। इसमें बैंकिंग सेक्टर की अच्छाई और बुराई सभी को दिखाया है। जिससे लोगों को इस सेक्टर के बारे में पता चलेगा।"

फिल्म 'द ड्रीम जॉब' में स्टोरी और डायलॉग मुकेश मिश्रा, स्क्रीनप्ले मुकेश मिश्रा, शाकीब अहमद, रवि भूषण कुमार का है, इसके कैमरामैन मधु एस राव है,एडिटर सागर वंजारी, गीतकार मुकेश मिश्रा, काशी- रिचर्ड,विशाल मिश्रा, रउनक रुणवाल, आदित्य वीरमनी है। इस फिल्म के मुख्य कलाकार जुबेर के खान, प्रसाद शिखारे, साध्वी भट्ट, ऋतम्भरा श्रोत्रिया, विकास श्रीवास्तव, दुर्गेश कुमार, नन्द पंत, सज्जिद खान, सुरजीत सिंह राजपूत इत्यादि है। इस फिल्म में कुल सात गाने है। जिसे मशहूर गायक मीका सिंह,जावेद अली,ममता शर्मा,मनोज तिवारी इत्यादि ने अपने सुरों से संवारा है। यह फिल्म ११ अगस्त २०१७ को रिलीज़ हो रही है।

Related News

Latest Tweets