×

ओला ने गूगल मैप से नाता तोड़ लॉन्च किया खुद का OLA Maps, भाविश अग्रवाल ने बताया इसे खास

prativad news photo, top news photo, प्रतिवाद
Location: भोपाल                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 682

भोपाल: 6 जुलाई 2024। भारत की प्रमुख राइड-हेलिंग कंपनी ओला ने आज गूगल मैप से नाता तोड़कर अपना खुद का मैपिंग प्लेटफॉर्म, OLA Maps लॉन्च कर दिया है।

यह कदम कंपनी द्वारा डेटा गोपनीयता और लागत में कमी लाने की रणनीति का हिस्सा माना जा रहा है। ओला के सीईओ, भाविश अग्रवाल ने ट्वीट कर कहा कि "पिछले महीने Azure से बाहर निकलने के बाद, हमने अब Google Maps से भी पूरी तरह से नाता तोड़ लिया है। हम सालाना 100 करोड़ रुपये खर्च करते थे, लेकिन इस महीने हमने इसे पूरी तरह से खत्म कर दिया है! अपनी ओला ऐप को चेक करें और अपडेट करें ।"

OLA Maps को कंपनी के इन-हाउस AI प्लेटफॉर्म, Krutrim द्वारा विकसित किया गया है। यह नया प्लेटफॉर्म राइडर्स और ड्राइवर्स को रीयल-टाइम ट्रैफिक अपडेट, वैकल्पिक रूट सुझाव, और लैंडमार्क-आधारित नेविगेशन जैसी सुविधाएं प्रदान करेगा।

अग्रवाल ने यह भी कहा कि OLA Maps "विशेष रूप से भारत के लिए बनाया गया है और इसमें स्थानीय भाषाओं और सड़कों के लिए समर्थन शामिल होगा।"

यह देखना बाकी है कि OLA Maps, Google Maps जैसे स्थापित प्लेटफॉर्म को कितनी अच्छी टक्कर दे पाता है।

OLA Maps के कुछ प्रमुख फीचर:

रीयल-टाइम ट्रैफिक अपडेट
वैकल्पिक रूट सुझाव
लैंडमार्क-आधारित नेविगेशन
स्थानीय भाषाओं और सड़कों के लिए समर्थन
भारत-विशिष्ट सुविधाएं

OLA Maps के लॉन्च के पीछे के संभावित कारण:
डेटा गोपनीयता: ओला अपनी डेटा को Google के साथ साझा नहीं करना चाहता है।
लागत में कमी: OLA Maps को विकसित करने और बनाए रखने में Google Maps का उपयोग करने की तुलना में कम खर्च आएगा।
आत्मनिर्भरता: OLA भारत में आत्मनिर्भरता को बढ़ावा देना चाहता है।

OLA Maps के लॉन्च का उद्योग पर प्रभाव:
यह भारत में मैपिंग प्लेटफॉर्म बाजार में प्रतिस्पर्धा को बढ़ा सकता है।
यह भारतीय उपयोगकर्ताओं के लिए डेटा गोपनीयता और सुरक्षा में सुधार कर सकता है।
यह भारत में आत्मनिर्भरता को बढ़ावा दे सकता है।
यह निश्चित रूप से कहना अभी जल्दबाजी होगी कि OLA Maps कितना सफल होगा, लेकिन यह निश्चित रूप से भारत के मैपिंग प्लेटफॉर्म बाजार में एक दिलचस्प मोड़ है।

Related News

Latest News

Global News