×

गूगल ने ChatGPT को टक्कर देने उतारा अपना एआई चैटबॉट 'बार्ड'

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 4827

Bhopal: 07 फरवरी 2023। ChatGPT को पिछले साल नवंबर के महीने में पेश किया गया था। तब से, OpenAI ने ChatGPT की असाधारण क्षमताओं से दैनिक जीवन पर प्रभाव ड़ाला है। Google पिछले छह वर्षों से AI पर काम कर रहा था और आखिरकार इसने बार्ड का खुलासा कर दिया है।

एक ब्लॉग पोस्ट में, Google के सीईओ सुंदर पिचाई ने बताया कि बार्ड क्या है और इसकी कुछ बुनियादी कार्यक्षमता क्या है। बार्ड एक प्रायोगिक संवादी एआई सेवा है। संवाद अनुप्रयोगों के लिए कंपनी के भाषा मॉडल (LaMDA) द्वारा संचालित। बार्ड को चैटजीपीटी से अलग करने वाली बात यह है कि यह वेब से जानकारी प्राप्त करने में सक्षम होगा। जिसे फिलहाल यूजर्स के फीडबैक के लिए जारी किया गया है। कंपनी आने वाले हफ्तों में इसे सभी के लिए जारी कर सकती है।

जल्द लॉन्च होगा गूगल का एआई चैटबॉट Bard
अल्फाबेट और गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने सोमवार को एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि कंपनी यूजर्स का फीडबैक लेने के लिए बार्ड नामक एक कन्वर्सेशनल एआई सर्विस को शुरू कर रही है। टेस्टिंग के बाद आने वाले हफ्तों में इसकी सार्वजनिक रिलीज होगी।
LaMDA से लैस होगा बार्ड
ब्लॉग पोस्ट के अनुसार, एक्सपेरिमेंटल कन्वर्सेशनल एआई सर्विस बार्ड को LaMDA (लैंग्वेज मॉडल और डायलॉग एप्लिकेशन) से संचालित किया गया है। बता दें कि लैम्डा गूगल का एक एआई चैटबॉट है, जो इंसानों की तरह सोच सकता है। कंपनी ने इसे दो साल पहले ही पेश किया था। पिचाई ने कहा कि कंपनी का नया एआई चैटबॉट बार्ड की क्षमताओं के बारे में कहा कि इसको कंपनी के बड़े लैंग्वेज मॉडल की पावर, बुद्धिमत्ता और रचनात्मकता के संयोजन से लैस किया जाएगा।

गूगल के सीईओ ने कहा कि बार्ड यूजर्स के फीडबैक और वेब पर उपलब्ध जानकारी के आधार पर ज्ञान प्राप्त करेगा। कंपनी शुरू में LaMDA के हल्के मॉडल वर्जन के साथ टेस्टर के लिए AI सिस्टम को रोल आउट कर रही है। भविष्य के इसके एआई सिस्टम को और बेहतर बनाने के लिए काम किया जाएगा।
ChatGPT को देगा टक्कर
कंपनी ने नए एआई चैटबॉट बार्ड को OpenAI के ChatGPT को टक्कर देने के लिए पेश किया है। बता दें कि चैटजीपीटी टिक टॉक और इंस्टाग्राम जैसे प्लेटफॉर्म को पछाड़ते हुए इतिहास में सबसे तेजी से बढ़ने वाला यूजर एप्लिकेशन बन गया है। ChatGPT ने लॉन्च के दो महीने बाद ही जनवरी में 100 मिलियन मासिक एक्टिव यूजर्स तक पहुंच बना ली है।
गूगल ने किया एंथ्रोपिक में लगाया बड़ा दाव
Google ने हाल ही में Anthropic में 400 मिलियन डॉलर यानी करीब 3,299 करोड़ रुपये का निवेश किया है। इस निवेश की रिपोर्ट पर Google और Anthropic में से किसी ने टिप्पणी नहीं की है, हालांकि दोनों ने साझेदारी की घोषणा जरूर की है। इस साझेदारी के तहत ChatGPT जैसा एआई टूल तैयार होगा।

कई रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि गूगल ने आज भले ही Anthropic में निवेश किया है लेकिन भविष्य में गूगल इस कंपनी का अधिग्रहण कर सकता है। बता दें कि जनवरी 2021 में एंथ्रोपिक एआई ने ओपनएआई के बेतहाशा लोकप्रिय चैटजीपीटी के प्रतिद्वंद्वी क्लाउड नामक एक नए चैटबॉट का टेस्ट भी किया था।

Related News

Latest News

Global News