×

एक घंटे में कमा लिए 220 अरब डॉलर, फेसबुक से भी आगे निकली यह कंपनी

Location: नई दिल्ली                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 3656

नई दिल्ली: 25 मई 2023। चिप बनाने वाली एनवीडिया ने रिजल्ट घोषित कर दिया है। 30 अप्रैल को खत्म हुई पहली तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू 19 फीसदी बढ़ा है। साथ ही कंपनी ने आगे अपने रेवेन्यू में काफी उछाल आने की घोषणा की है। इससे कंपनी के शेयरों में 28 फीसदी उछाल आई और एक झटके में उसका मार्केट कैप 220 अरब डॉलर बढ़ गया है।

चिप बनाने वाली अमेरिकी कंपनी एनवीडिया कार्पोरेशन ने कमाल कर दिया। कंपनी के मार्केट कैप में एक घंटे में 220 अरब डॉलर की उछाल आई। इसके साथ ही यह कई दिग्गज कंपनियों को पछाड़ते हुए मार्केट कैप के लिहाज से दुनिया की छठी सबसे बड़ी कंपनी बन गई। कंपनी ने अपने रिजल्ट की घोषणा करते हुए स्ट्रॉन्ग रेवेन्यू ग्रोथ का अनुमान जताया है। साथ ही कंपनी ने घोषणा की है कि वह एआई चिप (AI Chip) की बढ़ती मांग को देखते हुए इनका प्रॉडक्शन बढ़ा रही है। कंपनी की इस घोषणा से उसके स्टॉक 28 फीसदी चढ़कर ऑलटाइम हाई पर पहुंच गए। इसके साथ ही कंपनी का मार्केट कैप 960 अरब डॉलर पहुंच गया। इस तरह एनवीडिया दुनिया की छठी और अमेरिका की पांचवीं सबसे मूल्यवान कंपनी बन गई।

एनवीडिया ने मार्केट कैप के मामले में चिप बनाने वाली दूसरी कंपनियों को कहीं पीछे छोड़ दिया। AMD का कुल मार्केट कैप 175 अरब डॉलर, Intel का 120 अरब डॉलर और Micron का 73 अरब डॉलर है। यानी Nvidia ने एक घंटे में इंटेल और माइक्रोन के कंबाइंड मार्केट के कंबाइंड वैल्यू से ज्यादा मार्केट कैप जोड़ लिया। एनवीडिया का रेवेन्यू पिछली तिमाही के मुकाबले 19 फीसदी बढ़ा है। कंपनी के रिजल्ट के कारण एआई से जुड़ी दूसरी कंपनियों के शेयरों में भी काफी तेजी देखी गई।

मोस्ट वैल्यूएबल कंपनी

आईफोन बनाने वाली कंपनी ऐपल (Apple) मार्केट कैप के लिहाज से दुनिया की सबसे मूल्यवान कंपनी है। इसका मार्केट कैप 2.702 ट्रिलियन डॉलर है। दूसरे नंबर पर माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) है जिसका मार्केट कैप 2.333 ट्रिलियन डॉलर है। सऊदी अरामको 2.065 ट्रिलियन डॉलर के साथ तीसरे, गूगल की पेरेंट कंपनी अल्फाबेट 1.539 ट्रिलियन डॉलर के साथ चौथे और ऐमजॉन 1.197 ट्रिलियन डॉलर के साथ पांचवें स्थान पर हैं। वॉरेन बफे की कंपनी हैथवे बर्कशायर 700.60 अरब डॉलर के साथ सातवें और मेटा प्लेटफॉर्म (फेसबुक) 638.65 अरब डॉलर के साथ आठवें नंबर पर है। रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) 198.47 अरब डॉलर के साथ 49वें नंबर पर है। रेवेन्यू के हिसाब से वॉलमार्ट (Walmart) दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी है।

Related News

Latest News

Global News