×

बेरोजगारी भत्ते की बजाय मुख्यमंत्री ने युवाओं को दिया सीखने का अवसर, साथ में 8 हजार मानदेय भी

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 475

Bhopal: 3 फरवरी 2023। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने बजट में यूथ पावर को सप्तऋषि में शामिल कर अमृतकाल पीढ़ी को देश की तरक्की में अहम भूमिका बताया, वहीं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने पीएम के विजन को एक्शन में बदलते हुए युवाओं के विकास के लिए अभिनव पहल की है। मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा शुरू की गई नई योजना में जहाँ प्रदेश भर के शिक्षित युवाओं को फिनिशिंग स्कूल के कॉन्सेप्ट पर फोकस स्किल्स सिखाई जाएगी, वहीं उन्हें जमीनी स्तर पर जारी वास्तविक परियोजनाओं को समझने का अवसर भी दिया जाएगा। साथ ही उन्हें मुख्य स्टार्ट अप के साथ सीखने का मौका भी इस योजना से मिलेगा। वे हॉवर्ड, यूनिसेफ, यूएनडीपी, आईएसबी, अमेरिकन इंडियन फाउंडेशन के साथ कार्य अनुभव भी ले पाएंगे।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने युवाओं की मौजूदगी वाले कार्यक्रमों के दौरान मंच, भाषण, फूल मालाओं, स्वागत के परंपरागत ढर्रे को दरकिनार कर युवाओं से सीधी बातचीत करने का तरीका अपनाया है। इसी परंपरा को राजधानी भोपाल में होने वाले युवा इंटर्न कार्यक्रम में वे फिर दोहराने वाले हैं। इस बार वे प्रदेशभर से आने वाले युवाओं का स्वागत अपने हाथों से फूल बरसा कर करेंगे। बाद में वे युवाओं से सीधी बात करके उनके लिए भविश्य की सुनहरी योजनाओं और अवसरों की चर्चा करेंगे।

प्रदेश के युवाओं को समर्पित कार्यक्रम शनिवार 4 फरवरी को राजधानी के नेहरू नगर पुलिस ग्राउंड में होने वाला है। कार्यक्रम में पूरे प्रदेश से करीब 5 हजार युवा हाजिर होंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शाम 4 बजे ऊर्जा से भरे इन युवाओं के बीच पहुँचेंगे। इन युवाओं को इसी माह से 6 माह के लिए युवा इंटर्नशिप प्रोग्राम में कार्य करना है, जिसमें वे सुशासन के गुण सीखने वाले है। मुख्यमंत्री जनसेवा मित्र के नाम से शुरू की गई इस महत्वाकांक्षी योजना को देश ही नहीं बल्कि दुनिया की इकलौती और अभिनव योजना कहा जा रहा है। योजना को लेकर देश-दुनिया की निजी और शासकीय कंपनियों ने जो उत्साह दिखाया है, उसने इस आयोजन को और भी खास बना दिया है। शनिवार को होने वाले इस युवा संगम में हॉवर्ड से लेकर यूनिसेफ जैसी संस्थाएँ शामिल होकर युवाओं को मार्गदर्शित करने वाली हैं। शनिवार देर सुबह शुरू होने वाले इस कार्यक्रम में प्रदेशभर से पहुँचने वाले युवा इंटर्न भविष्य में कैरियर के दोरान काम आने वाली कई बारीकियाँ सीखेंगें। वे सुशासन के भागीदार बन रहे इन युवाओं से सीधी चर्चा करेंगे। मुख्यमंत्री युवाओं को सफल भविष्य के लिए मंत्र भी देंगे।

सीएम का फोकस युवा

देशभर की इकलौती और अभिनव योजना मुख्यमंत्री जनसेवा मित्र योजना देने वाले मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पिछले दिनों इंदौर में हुए 17वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन में युवाओं को भारत की स्टार्ट अप योजनाओं का कर्णधार बताया है। उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि वे आगे बढ़ें और इतना आगे जाएं कि दुनिया अपने देश के विकास को निहारे और इसकी कायल हो जाए। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान अपने पहले कार्यकाल से ही प्रदेश के युवाओं से एक खास रिश्ता कायम कर चल रहे हैं। प्रदेश के सभी युवाओं को अपना भांजा-भांजी निरूपित करते आए श्री चौहान अब उन्हें मेरे बेटा-बेटियों के संबोधन से पुकारने लगे हैं। ये संबोधन अब मंचीय नारों से आगे बढ़ कर युवाओं को रोजगार और उनकी शैक्षणिक क्षमता को आगे बढ़ाने की तरफ बढ़ चुका है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के यंग प्रोफेशनल्स को प्रदेश की विकास व्यवस्था का भागीदार बनाने के लिए गत वर्ष मुख्यमंत्री यंग प्रोफेशनल्स डेवलपमेंट प्रोग्राम शुरू किया था। प्रदेश के हर छोटे-बड़े गाँव और शहर में मौजूद इस योजना से जुड़े युवा सुशासन में अपना योगदान दे रहे हैं। इस शुरूआत से जहाँ समाज की अंतिम पंक्ति पर बैठे व्यक्ति तक सरकारी योजनाओं और सुविधाओं का पहुंचना आसान हुआ है, वहीं इससे युवाओं में नेतृत्व क्षमता और प्रशासनिक कौशल भी पनपा है। एक साल पूरा कर चुकी इस योजना के बाद जहाँ सीएम शिवराज इन युवाओं को अपना हाथ-पैर और मुँह, आँख और कान करार देते हैं, वहीं प्रदेश के युवाओं ने इस उपलब्धि से खुद को परिपक्व और कुछ करने के लिए सक्षम माना है।

प्रदेश के युवाओं के शैक्षिक विकास और रोजगार की गारंटी देने के लिए अब एक नई योजना सीएमवाईआईपी मुख्यमंत्री जनसेवा मित्र को आकार दिया गया है। प्रदेश के हर ब्लॉक स्तर तक के करीब 5 हजार स्नातक युवाओं को 6 माह के इंटर्नशिप योजना के माध्यम से जोड़ा गया है। प्रशिक्षण अवधि में 8 हजार रुपए महीना मानदेय के साथ इन युवाओं का भविष्य के सफल सुशासक के रूप में आँकलन किया जा रहा है।

Madhya Pradesh, MP News, Madhya Pradesh News, Hindi Samachar, prativad.com

Related News

Latest News

Global News