×

मप्र की 29 सीटों पर 66.87% मतदान, पिछली बार से 4.29% कम, आयोग ने जारी किए अंतिम आंकड़े

prativad news photo, top news photo, प्रतिवाद
Location: भोपाल                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 446

भोपाल: 15 मई 2024। चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार इस बार 69.37% पुरुष और 64.24% महिलाओं ने मतदान किया। प्रदेश की सभी सीटों में सबसे अधिक मतदान छिंदवाड़ा में 79.83% हुआ। वहीं, रीवा में सबसे कम 49.43% मतदान हुआ है।

मध्य प्रदेश में सोमवार को चौथे और अंतिम चरण के मतदान के बाद चुनाव आयोग ने मंगलवार को सभी सीटों पर मतदान के आंकड़े जारी किए हैं। आयोग के अनुसार प्रदेश की 29 सीटों पर 66.87% मतदान हुआ है। पिछली बार प्रदेश में 71.16% मतदान हुआ था। इसके अनुसार इस बार 4.29% मतदान कम हुआ है। आयोग के आंकड़ों के अनुसार इस बार 69.37% पुरुष और 64.24% महिलाओं ने मतदान किया। प्रदेश की सभी सीटों में सबसे अधिक मतदान छिंदवाड़ा में 79.83% हुआ। वहीं, रीवा में सबसे कम 49.43% मतदान हुआ है।

प्रदेश में पहले चरण की 6 सीटों पर 67.75%, दूसरे चरण की 6 सीटों पर 58.59%, तीसरे चरण की 9 सीटों पर 66.75% और चौथे चरण की आठ सीटों पर 72.05% मतदान हुआ है। पहले चरण की तीन सीटों मंडला (72.84), बालाघाट (73.45) और छिंदवाड़ा (79.83) में 70 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ है। इनमें छिंदवाड़ा सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ प्रत्याशी थे। यहां पर कमलनाथ ने चुनाव की कमान अपने हाथ में ले रखी थी। वहीं, पूरी भाजपा कमलनाथ को उनके गढ़ में घेरने जुटी थी। वहीं, दूसरे चरण की छह सीटों पर किसी भी चरण में 70 प्रतिशत से अधिक मतदान नहीं हुआ। इसमें खजुराहो सीट पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा प्रत्याशी थे, लेकिन उनके सामने कोई मजबूत दावेदार नहीं था। यहां पर इंडी गठबंधन की प्रत्याशी का नामांकन रद्द हो गया था।

वहीं, तीसरे चरण में नौ सीटों में चार सीटों गुना (72.43), राजगढ़ (76.04), विदिशा (74.48) ओर बैतूल (73.53) सीट पर 70 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ। यहां गुना सीट पर केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, विदिशा सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राजगढ़ सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह चुनाव लड़े। हाई प्रोफाइल नेताओं की सीट पर दोनों ही दलों ने मतदान कराने पूरा जोर लगाया। इसके अलावा चौथे चरण की आठ सीटों में सिर्फ इंदौर को छोड़कर बाकी सभी सीटों पर 70 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ। इंदौर में कांग्रेस प्रत्याशी के नामांकन वापस लेने के बाद चुनाव एकतरफा हो गया था। सभी सीटों पर मतगणना 4 जून होगी। बता दें 2019 में प्रदेश की 29 सीटों में से 28 सीटें भाजपा और एक छिंदवाड़ा सीट कांग्रेस ने जीती थी।

Related News

Latest News

Global News