×

योग विज्ञान है, यह एकाग्रता लाने में सहायक: प्रधानमंत्री मोदी

prativad news photo, top news photo, प्रतिवाद
Location: भोपाल                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 958

भोपाल:

मुख्यमंत्री यादव: श्रीअन्न के साथ योग को नया आयाम



21 जून 2024। मध्यप्रदेश सरकार ने 11 नए आयुर्वेदिक महाविद्यालय खोलने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। इसके साथ ही किसानों को मोटे अनाज के उत्पादन के लिए प्रोत्साहन दिया जाएगा। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने श्रीअन्न संवर्धन अभियान की शुरुआत की। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में मुख्यमंत्री निवास पर योगाभ्यास किया गया, जिसमें कई जनप्रतिनिधि और अधिकारी शामिल हुए।

प्रधानमंत्री मोदी का संबोधन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीनगर से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2024 पर अपने संबोधन में कहा कि योग विद्या ही नहीं, बल्कि एक विज्ञान है, जो एकाग्रता बढ़ाने और मानसिक शक्ति को मजबूत करने में सहायक है। उन्होंने योग को लोकप्रिय बनाने के प्रयासों को सराहा और कहा कि 10 साल पहले संयुक्त राष्ट्रसंघ में योग दिवस के प्रस्ताव को 177 देशों ने समर्थन दिया था।

मुख्यमंत्री यादव का संबोधन

मुख्यमंत्री यादव ने प्रधानमंत्री मोदी के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि योग का अर्थ मन और आत्मा का जुड़ाव है। उन्होंने इस वर्ष योग को श्रीअन्न से जोड़ने का महत्व बताया और भारतीय संस्कृति की ध्वजा लहराने पर गर्व व्यक्त किया।

प्रदेश में योग और आयुर्वेद को प्रोत्साहन

मुख्यमंत्री यादव ने बताया कि मध्यप्रदेश में योग आयोग के गठन के बाद योग को पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाया गया है। आनंद विभाग की स्थापना के साथ योग और आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति को भी महत्व दिया जा रहा है।

श्रीअन्न उत्पादन पर किसानों को प्रोत्साहन

मुख्यमंत्री यादव ने श्रीअन्न के उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए किसानों को प्रति क्विंटल एक हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि देने की घोषणा की।

कार्यक्रम की अन्य गतिविधियाँ

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री यादव को किसानों ने श्रीअन्न बीज के पैकेट भेंट किए। मुख्यमंत्री निवास परिसर में सामूहिक योगाभ्यास किया गया, जिसमें मुख्यमंत्री यादव और उपस्थित जनप्रतिनिधियों एवं वरिष्ठ अधिकारियों ने विभिन्न योग आसनों का अभ्यास किया। प्रमुख सचिव आयुष एवं स्कूल शिक्षा श्रीमती रश्मि अरुण शमी ने स्वागत उद्बोधन दिया और इस वर्ष योग दिवस की थीम "योग स्वयं और समाज के लिए" के बारे में जानकारी दी।

Related News

Latest News

Global News