×

मेटा प्लेटफॉर्म पर रोजाना 1 लाख नाबालिग यौन गतिविधियों में शामिल, कोर्ट दस्तावेजों का खुलासा

Location: भोपाल                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 2030

भोपाल: 19 जनवरी 2024। एक चौंकाने वाली रिपोर्ट में अस्वीकृत कोर्ट दस्तावेजों के आधार पर आरोप लगाया गया है कि मेटा प्लेटफॉर्म के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म, जिनमें फेसबुक और इंस्टाग्राम शामिल हैं, पर हर रोज 1 लाख तक नाबालिग यौन-संबंधी गतिविधियों में शामिल होते हैं। इस चिंताजनक अनुमान ने कंपनी के बच्चों को ऑनलाइन हानिकारक सामग्री और शिकारी व्यवहार से बचाने के सुरक्षा उपायों को लेकर आक्रोश और चिंता जताई है।

यह आंकड़ा न्यू मेक्सिको अटॉर्नी जनरल कार्यालय द्वारा मेटा के खिलाफ दायर एक मुकदमे से सामने आया, जिसमें कंपनी पर बच्चों को हानिकारक सामग्री और शिकारी व्यवहार के संपर्क से पर्याप्त रूप से बचाने में विफल रहने का आरोप लगाया गया है। अस्वीकृत दस्तावेज कंपनी के आंतरिक प्रस्तुतिकरण और संचार का विवरण देते हैं, जिसमें प्लेटफॉर्म पर सेक्स-संबंधी गतिविधियों में शामिल नाबालिगों के प्रसार के अनुमानों का विवरण है।

रिपोर्ट यौन उत्पीड़न और शोषण के परेशान करने वाले उदाहरणों का विवरण देती है, जिसमें ऐसे उदाहरण शामिल हैं जहां नाबालिगों को वयस्क जननांगों की अवांछित तस्वीरें मिलीं और उन्हें वयस्कों से शिकारी संपर्क का सामना करना पड़ा। इससे प्लेटफॉर्म पर ऐसी स्थितियों को रोकने के लिए मेटा के वर्तमान सुरक्षा उपायों की प्रभावशीलता पर गंभीर सवाल उठते हैं।

मुकदमे के अनुसार, मेटा इस मुद्दे के बारे में कुछ समय से अवगत है, लेकिन इसे ठीक से हल करने के लिए पर्याप्त कदम नहीं उठाए हैं। कंपनी ने कथित तौर पर आंतरिक अनुमानों के महत्व को कम कर दिया है और तर्क दिया है कि वे उसके कुल उपयोगकर्ता आधार का एक छोटा सा अंश दर्शाते हैं। हालांकि, आलोचकों का तर्क है कि बाल शोषण का एक भी मामला अस्वीकार्य है और इसके लिए तत्काल कार्रवाई की आवश्यकता है।

इस खुलासे ने मेटा से तत्काल कार्रवाई की मांग करते हुए व्यापक आलोचना और आह्वान किया है। बाल सुरक्षा वकील, विधायक और माता-पिता सख्त नियमों और बच्चों को ऑनलाइन हानिकारक सामग्री और शिकारी व्यवहार के संपर्क में आने से रोकने के लिए अधिक मजबूत तकनीक की मांग कर रहे हैं।

बढ़ते दबाव के जवाब में, मेटा ने बच्चों की ऑनलाइन सुरक्षा के लिए अपनी प्रतिबद्धता को दोहराया है और बाल शोषण से निपटने के अपने प्रयासों को रेखांकित किया है। हालांकि, कई लोग कंपनी के आश्वासन पर संदेह करते हैं और ठोस कदम उठाए जाने की मांग करते हैं।

मेटा प्लेटफॉर्म पर 1 लाख नाबालिगों के यौन-संबंधी गतिविधियों में शामिल होने की संभावना एक भयानक संभावना है। यह घटना कंपनी के तौर- तरीकों पर एक काला साया डालती है और बच्चों की सुरक्षा के लिए सख्त नियमों और उद्योग भर में अधिक व्यापक बाल सुरक्षा उपायों की आवश्यकता को उजागर करती है।

यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि बच्चों को ऑनलाइन नुकसान से बचाया जाए, और यह चिंताजनक रिपोर्ट मेटा और अन्य सोशल मीडिया दिग्गजों से तत्काल और प्रभावी कार्रवाई की मांग करती है। हमारे बच्चों की सुरक्षा और कल्याण सर्वोपरि होना चाहिए, और किसी भी टेक कंपनी को उनकी सुरक्षा पर जुड़ाव और मुनाफे को प्राथमिकता देने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

Related News

Latest News

Global News