×

उज्जैन में विकास के लिए सांप्रदायिक सौहार्द का अनूठा उदाहरण: धार्मिक स्थलों को शांतिपूर्वक हटाया

prativad news photo, top news photo, प्रतिवाद
Location: उज्जैन                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 856

उज्जैन: 26 मई 2024। उज्जैन शहर में केडी मार्ग चौड़ीकरण के लिए एक अनूठा उदाहरण प्रस्तुत करते हुए, विभिन्न धार्मिक समुदायों ने आपसी सहयोग और सौहार्द का प्रदर्शन करते हुए स्वेच्छा से अपने धार्मिक स्थलों को हटा दिया। यह घटना विकास की दिशा में सांप्रदायिक एकता का प्रतीक है।

शांतिपूर्ण स्थानांतरण:
गुरुवार और शुक्रवार को, जिला प्रशासन, पुलिस और नगर निगम की संयुक्त टीम ने केडी गेट तिराहे से तीन इमली चौराहे तक फैले 18 धार्मिक स्थलों को शांतिपूर्ण ढंग से हटाने की कार्रवाई की। इस प्रक्रिया में धार्मिक स्थलों के व्यवस्थापकों, पुजारियों और स्थानीय लोगों ने भी सक्रिय सहयोग दिया।

सभी धर्मों का सम्मान:
हटाई गई 15 मंदिरों, 2 मस्जिदों और 1 मजार को प्रशासन द्वारा धार्मिक स्थलों के व्यवस्थापकों द्वारा निर्धारित स्थानों पर विधि-विधान से स्थापित किया गया है।

भवनों का भी पुनर्निर्माण:
इसके अलावा, 20 से अधिक भवनों के उन हिस्सों को भी भवन स्वामियों ने स्वेच्छा से तोड़ा गया था जो नए मार्ग के लिए बाधा बन रहे थे।

सभी समुदायों का योगदान:
केडी मार्ग के विकास के लिए विभिन्न धार्मिक समुदायों ने न केवल सहयोग किया बल्कि स्वयं अपने धार्मिक स्थलों को हटाने में भी अग्रणी भूमिका निभाई। जिला प्रशासन ने भी विभिन्न धार्मिक समुदायों के बीच आपसी सामंजस्य और समन्वय स्थापित करने में सक्रिय भूमिका निभाई। कलेक्टर उज्जैन नीरज कुमार सिंह और पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा ने लगातार कार्यों की निगरानी की।

धार्मिक भावनाओं का सम्मान:
कलेक्टर श्री नीरज कुमार सिंह और पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा के निर्देशानुसार, धार्मिक स्थलों को हटाने से पहले और उसके दौरान प्रत्येक संप्रदाय के प्रमुख लोगों से चर्चा की गई और समन्वय स्थापित किया गया। कलेक्टर श्री सिंह के निर्देशानुसार किसी भी संप्रदाय की धार्मिक भावनाओं को ठेस न पहुंचे, इस बात का विशेष ध्यान रखा गया।

सभी विभागों का सहयोग:
केडी मार्ग चौड़ीकरण के लिए कलेक्टर और एसपी के मार्गदर्शन में निगम आयुक्त आशीष पाठक, एडीएम अनुकूल जैन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जयंत सिंह राठौर सहित अन्य अधिकारियों ने विभिन्न धार्मिक संगठनों के साथ समन्वय स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। लगभग डेढ़ किलोमीटर लंबे केडी मार्ग के लिए विभिन्न सेक्टर्स में कार्यपालिक मजिस्ट्रेटों की ड्यूटी लगाई गई थी। प्रशासन, पुलिस और नगर निगम का अमला भी इस कार्य में मुस्तैद रहा।

उज्जैन में केडी मार्ग चौड़ीकरण के लिए विभिन्न धार्मिक समुदायों द्वारा प्रदर्शित सौहार्द और सहयोग विकास की दिशा में एक प्रेरणादायक उदाहरण है। यह दर्शाता है कि जब सभी मिलकर काम करते हैं तो कोई भी बाधा पार की जा सकती है।

Related News

Latest News

Global News