×

वनवेब और यूटेलसैट का विलय हुआ, बनी दुनिया की पहली GEO-LEO सैटेलाइट स्पेस कनेक्टिविटी कंपनी

prativad news photo, top news photo, प्रतिवाद
Location: भोपाल                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 2773

भोपाल: 28 सितंबर 2023। दुनिया के अग्रणी सैटेलाइट ऑपरेटरों में से एक, यूटेलसैट ने आज वैश्विक लो अर्थ ऑर्बिट (एलईओ) सैटेलाइट संचार नेटवर्क, वनवेब के साथ अपने विलय को पूरा करने की घोषणा की। यह विलय यूटेलसैट शेयरधारकों की आर्डिनरी और एक्स्ट्राऑर्डिनरी जनरल मीटिंग में स्वीकृति के बाद किया गया।

विलय के बाद, नई कंपनी यूटेलसैट समूह के नाम से जानी जाएगी और यह दुनिया की पहली GEO-LEO एकीकृत सैटेलाइट समूह होगी। यह विलय दोनों व्यवसायों के प्रयासों में तालमेल बिठाएगा और तेजी से बढ़ते कनेक्टिविटी बाजार को संबोधित करेगा।

भारती एंटरप्राइजेज सबसे बड़ी शेयरधारक
विलय के बाद, भारती एंटरप्राइजेज कंपनी में 21.2% हिस्सेदारी के साथ सबसे बड़ी शेयरधारक बन जाएगा। भारती समूह, यूटेलसैट समूह में रणनीतिक निवेशक बनने के लिए प्रतिबद्ध है। श्री सुनील भारती मित्तल, भारती समूह के संस्थापक और अध्यक्ष, यूटेलसैट समूह के निदेशक मंडल के उपाध्यक्ष (सह-अध्यक्ष) होंगे। श्री श्रविन भारती मित्तल, जिन्होंने वनवेब निवेश का नेतृत्व किया, यूटेलसैट के बोर्ड में निदेशक के रूप में भारती के नेतृत्वकर्ता होंगे। श्री अखिल गुप्ता वनवेब के बोर्ड में निदेशक के रूप में काम करना जारी रखेंगे, जो अब यूटेलसैट की 100% सहायक कंपनी है।

नई कंपनी का परिचालन केंद्र लंदन में होगा
वनवेब एक सहायक कंपनी होगी जो व्यावसायिक रूप से यूटेलसैट वनवेब के रूप में काम करेगी और इसका परिचालन केंद्र लंदन में रहेगा। कंपनी यूरोनेक्स्ट पेरिस स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध है और उसने लंदन स्टॉक एक्सचेंज में मानक सूचीकरण के लिए आवेदन किया है।

भारती एंटरप्राइजेज के संस्थापक सुनील भारती मित्तल ने कहा, "संयुक्त राष्ट्र के सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए डिजिटल विभाजन को ख़तम करना एक महत्वपूर्ण मिशन है और यह संयोजन दोनों व्यवसायों के प्रयासों में तालमेल बिठाएगा और हमारी प्रगति को गति देगा। मैं उन सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने इसे संभव बनाया है। आज हमने एक कंपनी बनाई है, जो दुनिया भर के लोगों तक कनेक्टिविटी पहुँचाने का काम करेगी। भारती इस वर्ष के अंत में भारत में सेवाएं प्रदान करने और महत्वपूर्ण रूप से ग्लोबल साउथ के अन्य देशों में पहुंचकर उन लोगों को ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी प्रदान करने को लेकर उत्साहित है जो डिजिटल क्रांति का हिस्सा बनने से वंचित हैं।"

Related News

Latest News

Global News