×

गांधी दर्शन आज भी विश्व में सर्वाधिक प्रासंगिक : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: DD                                                                         Views: 776

Bhopal: मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गांधी जयंती पर वर्ष 2021 का राष्ट्रीय महात्मा गांधी सम्मान प्रदान किया
शास्त्री जी ने "जय जवान-जय किसान" का नारा देकर देश में आशा और ऊर्जा का संचार किया
भोपाल 2 अक्टूबर 2022। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गांधी दर्शन आज भी संपूर्ण विश्व में सर्वाधिक प्रासंगिक है। संपूर्ण विश्व यह कहता भी है और मानता भी है। विश्व में शांति के प्रकाश के दर्शन के लिए गांधी जी आज भी प्रकाश स्तंभ का कार्य कर रहे हैं। यह विचारणीय है कि हम गांधी जी को मानते हैं पर गांधी जी की बातों को नहीं मानते। यदि हम उनकी छोटी-छोटी बातों का अनुसरण करें, उन्हें आचरण, विचार और व्यवहार में लाएँ तो चमत्कार हो सकता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान गांधी जयंती पर रवीन्द्र भवन में राष्ट्रीय महात्मा गांधी सम्मान अलंकरण समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ग्रामीण विकास विज्ञान समिति जोधपुर के श्री रोशन लाल तथा श्री वरूण शर्मा को वर्ष 2021 का राष्ट्रीय महात्मा गांधी सम्मान प्रदान किया। सम्मान में समिति को 10 लाख रूपए की सम्मान निधि, शाल, श्रीफल और प्रशस्ति- पत्र भेंट किया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दीप प्रज्ज्वलित करने के बाद राष्ट्रपिता महात्मा गांधी तथा पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री के चित्र पर माल्यार्पण किया। मुख्यमंत्री ने धर्मपाल शोधपीठ द्वारा प्रकाशित "गांधी के बाद विश्व में गांधीवाद" पुस्तक का लोकार्पण भी किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि महात्मा गांधी की स्वच्छता, नशे से दूरी, माँ- बहन -बेटी का सम्मान और प्रतिदिन पेड़ लगाने जैसी बातों का निरंतर अनुसरण कर हम अपने देश, प्रदेश और समाज में बदलाव ला सकते हैं। प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में स्वच्छता, जन-आंदोलन बना है। प्रधानमंत्री श्री मोदी शांति के लिए भी विश्व स्तर पर प्रयासरत हैं। मध्यप्रदेश को स्वच्छता के क्षेत्र में देश में सर्वाधिक पुरस्कार प्राप्त हुए हैं। यह गांधी जी के दर्शन को व्यवहार में लाने का प्रयास है। हममें से प्रत्येक व्यक्ति गांधी जी के संदेशों में से किसी एक संदेश को मानने के लिए प्रतिबद्ध हो और उसका अपने जीवन में निरंतर पालन करें तभी हमारा गांधी जयंती मनाना सार्थक होगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर उनका स्मरण करते हुए कहा कि शास्त्री जी ने "जय जवान-जय किसान" का नारा देकर देश में आशा और ऊर्जा का संचार किया। पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपयी ने "जय विज्ञान" का नारा दिया और प्रधानमंत्री श्री मोदी "जय अनुसंधान" का नारा देकर देश को प्रगति पथ पर अग्रसर कर रहे हैं।

प्रमुख सचिव संस्कृति श्री शिव शेखर शुक्ला ने जानकारी दी कि राज्य शासन द्वारा गांधी विचार और दर्शन के अनुरूप कार्य करने वाली संस्था को सम्मानित करने के उद्देश्य से सबसे बड़ा राष्ट्रीय महात्मा गांधी सम्मान 1995 में स्थापित किया गया। समारोह में ग्रामीण विकास विज्ञान समिति जोधपुर द्वारा संचालित गतिविधियों की जानकारी दी गई। अलंकरण समारोह के बाद "एके राम रहीम" भजनांजलि कार्यक्रम में वृंदावन के प्रख्यात गायक श्री ध्रुव शर्मा और स्वर्ण श्री ने भजनों की प्रस्तुति दी।

Madhya Pradesh, MP News, Madhya Pradesh News, Hindi Samachar, prativad.com


Related News

Latest Tweets