×

लदंन में पैंट उतारकर क्यों घूम रहे लोग

Location: bhopal                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 1296

bhopal: सोशल मीडिया पर लंदन की कुछ तस्वीरें वायरल हो रही हैं, जिसमें दिख रहा है कि लोग सड़क पर, मेट्रो में बिना पैंट के ही चल रहे हैं. इन लोगों में महिलाएं और पुरुष दोनों ही शामिल हैं.
सोशल मीडिया पर कुछ तस्वीरें वायरल हुईं और ये तस्वीरें लंदन की हैं. इन तस्वीरों के वायरल होने का कारण ये है कि इन तस्वीरों में जो भी लोग दिखाई दे रहे हैं, उन्होंने पैंट नहीं पहन रखी हैं. इन तस्वीरों में कई महिलाएं और पुरुष नजर आ रही हैं और किसी ने भी पैंट नहीं पहनी है. सभी लोग अंडरवियर पहने ही दिखाई दे रहे हैं. खास बात ये है कि तस्वीरें इंडोर यानी किसी घर के अंदर की नहीं है, जबकि बाहर की है. तस्वीरों में दिख रहा है कि महिलाएं और पुरुष सड़क पर बिना पैंट के घूम रहे हैं और मेट्रो में भी बिना पैंट ही सफर कर रहे हैं.
ऐसे में सवाल है कि आखिर लंदन में ये लोग बिना पैंट के क्यों घूम रहे हैं और किसी को भी ऐसे घूमने में आपत्ति नहीं है. सभी लोग अंडरवियर में ही घूम रहे हैं और ऊपर जैकेट, टीशर्ट पहने हुए हैं. तो जानते हैं कि ये लोग ऐसा क्यों कर रहे हैं और उनके पैंट ना पहनने की वजह क्या है.
क्या है लंदन का नजारा?
सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीरों के अनुसार, लोग मेट्रो और सड़क पर बिना पैंट घूमते नजर आ रहे हैं. बिना पैंट घूमने वाले लोगों की संख्या भी कम नहीं है और बड़ी संख्या में लोग ऐसा कर रहे हैं. इन लोगों में महिलाओं और पुरुष दोनों शामिल हैं, जो अंडरवियर पहने हुए नजर आ रहे हैं. इस दौरान लोग नॉर्मल लाइफ जी रहे हैं और बिना किसी झिझक के ट्रैवल कर रहे हैं.
ऐसा क्यों कर रहे हैं?
अब सवाल है कि ऐसा लोग क्यों कर रहे हैं और क्यों अपनी पैंट का बहिष्कार कर रहे हैं. रिपोर्ट्स के अनुसार, यह लंदन का एक ट्रेडिशन है और यह हर साल जनवरी में किया जाता है. यानी जनवरी में एक दिन लोग बिना पैंट के मेट्रो में सफर करते हैं और सिर्फ अंडरवियर पहनकर घूमते रहते हैं. इस ट्रेडिशन को नो ट्राउजर ट्यूब राइड (No Trouser Tube Ride) नाम दिया गया है.
बता दें कि इसकी शुरुआत करीब 20 साल पहले अमेरिका के न्यूयॉर्क में हुई थी. इसकी शुरुआत एक कॉमिक परफॉरमेंस ग्रुप की ओर से की गई थी. उस वक्त ये ट्रेडिशन मजाक के तौर पर शुरू किया गया था और उस दौरान सिर्फ 7 लोगों ने इसे शुरू किया था. उस समय सात लोग एक मेट्रो स्टेशन पर चढ़े और उन्होंने पैंट नहीं पहन रखी थी. खास बात ये थी कि वो एक दूसरे को जानते थे, लेकिन उन्होंने एक दूसरे को ना पहचानने का नाटक किया. इसके बाद से यह चलन दुनिया के कई और देशों में भी शुरू हो गया और लंदन में इसी वजह से हुआ. अब कई ग्रुप ऐसा कर रहे हैं और बिना पैंट पहने बिना किसी टेंशन के वो घूमते हैं.

Related News