×

भारत में एआई क्रांति: ओला के संस्थापक ने लॉन्च किया "कृत्रिम" चैटबॉट

Location: भोपाल                                                 👤Posted By: prativad                                                                         Views: 2202

भोपाल: 26 फरवरी 2024। भारत की सबसे लोकप्रिय कैब सेवाओं में से एक ओला के संस्थापक भविष अग्रवाल ने आज भारत में "कृत्रिम" नामक एक क्रांतिकारी एआई चैटबॉट सेवा लॉन्च की है। यह चैटबॉट, ChatGPT और Gemini जैसे अमेरिकी चैटबॉट्स को टक्कर देगा और भारत में कृत्रिम बुद्धिमत्ता (AI) के क्षेत्र में एक बड़ा कदम है।

विश्व स्तर पर एआई का बढ़ता प्रभाव:
पिछले कुछ महीनों में, AI ने दुनिया भर में तेजी से अपना प्रभाव बढ़ाया है। चैटबॉट जैसी सेवाएं लोगों की जरूरत बनती जा रही हैं। अमेरिकी कंपनी OpenAI द्वारा लॉन्च किए गए ChatGPT ने दुनियाभर के करोड़ों यूजर्स को AI की शक्ति का एहसास कराया। इसके बाद, गूगल ने भी अपनी AI चैटबॉट सेवा Gemini लॉन्च की।

भारत में AI का विकास:
भारत में भी AI का विकास तेजी से हो रहा है। ओला के संस्थापक भविष अग्रवाल ने इसी गति को आगे बढ़ाते हुए "कृत्रिम" चैटबॉट लॉन्च किया है। "कृत्रिम" शब्द का अर्थ "बनावटी" होता है, जो AI के लिए एक उपयुक्त नाम है। यह चैटबॉट आज से पब्लिक बीटा में उपलब्ध है, जिसका अर्थ है कि अब आम यूजर्स भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।



LLM तकनीक पर आधारित:
"कृत्रिम" चैटबॉट मल्टीपल लार्ज लैंग्वेज मॉडल्स (LLM) पर आधारित है। LLM एक प्रकार की AI तकनीक है जो भाषा को समझने और उसका उपयोग करने में माहिर है। यह चैटबॉट ChatGPT और Gemini की तरह ही विभिन्न प्रकार के कार्यों को कर सकता है, जैसे:

प्रश्नों का उत्तर देना: यह चैटबॉट आपके द्वारा पूछे गए किसी भी प्रश्न का उत्तर दे सकता है, चाहे वह सरल हो या जटिल।
विभिन्न विषयों पर बातचीत करना: आप कृत्रिम चैटबॉट से विभिन्न विषयों पर बातचीत कर सकते हैं, जैसे कि राजनीति, खेल, विज्ञान, या मनोरंजन।
रचनात्मक सामग्री लिखना: यह चैटबॉट कविताएँ, कहानियाँ, गाने, या अन्य प्रकार की रचनात्मक सामग्री लिख सकता है।
Hinglish सहित कई भाषाओं का समर्थन:

"कृत्रिम" चैटबॉट हिंदी, अंग्रेजी, और Hinglish सहित कई भाषाओं का समर्थन करता है। यह भारत में AI को अधिक लोगों तक पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

भविष्य की योजनाएं:
भविष अग्रवाल ने कहा कि "कृत्रिम" अभी शुरुआत है। वे इस चैटबॉट को और बेहतर बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। भविष्य में,"कृत्रिम" और भी अधिक कार्यों को करने में सक्षम होगा और भारत में AI क्रांति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

यह लॉन्च भारत के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण है। यह दर्शाता है कि भारत AI के क्षेत्र में दुनिया के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रहा है। "कृत्रिम" चैटबॉट भारत में AI के विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा और लोगों के जीवन को बेहतर बनाने में मदद करेगा।

Related News

Latest News

Global News